रघुवर सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ पुलिस जवान, काला बिल्ला लगाकार की ड्यूटी

रघुवर सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ पुलिस जवान, काला बिल्ला लगाकार की ड्यूटी
  •  
  • 125
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    125
    Shares

सात सूत्री मांगों के समर्थन में जिले के 2000 पुलिसकर्मी आंदोलन में

गिरिडीह। सात सूत्री मांगों को लेकर झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन का आंदोलन मंगलवार को पूरे राज्य में शुरू हो गया। इसी कड़ी में एसोसिएशन की गिरिडीह इकाई के पुलिस पदाधिकारी व जवान भी काला बिल्ला लगाकर आंदोलन के समर्थन में कूद पड़े। आंदोलन के पहले चरण में मंगलवार को पुलिस जवानों के साथ पुलिस निरीक्षक, एसआई, एएसआई, जमादार स्तर के पुलिस पदाधिकारियों ने वर्दी में काला बिल्ला लगाकार अपना विरोध प्रकट किया। इस दौरान जिला मुख्यालय के नगर और मुफ्फसिल थाना के थाना प्रभारी समेत जिले के हर थानेदारों समेत 2000 हजार पुलिस पदाधिकारी और जवानों ने अपनी वर्दी में काला बिल्ला लगाकर ड्यूटी की। ट्रेफिक ड्यूटी में तैनात जवान भी काला बिल्ला लगाकर ड्यूटी करते दिखे।

जिले के सभी थानों में दिखा जवानों का विरोध प्रदर्शन

रघुवर सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ पुलिस जवान, काला बिल्ला लगाकार की ड्यूटी

मेंस एसोसिशन के अध्यक्ष कुंअरलाल पाहन, उपाध्यक्ष बजरंगी प्रसाद भैया के साथ संयुक्त सचिव दिलीप रविदास समेत एसोसिएशन के अन्य पदाधिकारी पहले पुलिस लाइन स्थित एसोसिएशन के कार्यालय के समीप राज्य सरकार की हठधर्मिता के विरोध में जमकर नारेबाजी की। इसके बाद एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कई थानों का दौरा कर जवानों और पदाधिकारियों की वर्दी में काला बिल्ला लगाया।

इसे भी पढ़ें-क्या गिरिडीह और कोडरमा लोस सीट पर बदले जाएंगे भाजपा के सिटिंग उम्मीदवार

क्या है पुलिसकर्मियों की सात सूत्री मांगे

एसोसिएशन की सात सूत्री मांगों में वर्दी भत्ता को पदाधिकारी व जवानों के लिए चार हजार से बढ़ाकर 12 हजार करने, धुलाई भत्ता को सौ रुपये से बढ़ाकर एक हजार करने, एसीबी में तैनात पुलिस पदाधिकारियों और जवानों का प्रोत्साहन भत्ता मूल वेतन का 25 फीसदी देने, नई पेंशन स्कीम को समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना को लागू करने, सीनियर पुलिस पदाधिकारियों की तर्ज पर पुलिस कर्मियों को भी चिकित्सा सुविधा देने समेत अन्य मांगें शामिल हैं।

राज्य सरकार ने आज तक पूरी नहीं की है पुलिसकर्मियों की मांग

रघुवर सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ पुलिस जवान, काला बिल्ला लगाकार की ड्यूटी

एसोसिएशन के अध्यक्ष कुंअरलाल पाहन ने बताया कि जब तक राज्य सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। कहा कि पुलिस एसोसिएशन के साथ हुई वार्ता के बाद सूबे के सीएम रघुवर दास ने सभी मांगों को जल्द पूरा करने का भरोसा दिलाया था। बावजूद अब तक मांगों को राज्य सरकार ने पूरा नहीं किया है। जिसे लेकर पुलिस एसोसिएशन द्वारा आंदोलन शुरू किया गया है। बताया कि तीन दिनों तक काला बिल्ला लगाकर ड्यूटी करने के बाद 20 फरवरी को सामूहिक उपवास पर रहकर ड्यूटी करेंगे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….