प्रतिमा विसर्जन के साथ सरस्वती पूजा संपन्न, श्रद्धाभाव के साथ मां को दी विदाई

प्रतिमा विसर्जन के साथ सरस्वती पूजा संपन्न, श्रद्धाभाव के साथ मां को दी विदाई
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 91
  •  
  •  
    91
    Shares

हवन को पूर्णाहुति देने के साथ ही लगाया गया मां को भोग

गिरिडीह। प्रतिमा विसर्जन व हवन को पूर्णाहुूति देने के साथ ही सोमवार को विद्या की अधिष्ठात्री माता सरस्वती की पूजा सम्पन्न हो गई। सोमवार को शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में संचालित विभिन्न शिक्षण संस्थानों द्वारा श्रद्धाभाव के साथ मां सरस्वती की पूजा अर्चना की गई। हवन कर पूर्णाहुति करते हुए भोग लगाया गया। शाम को भक्तों ने श्रद्धाभाव से मां सरस्वती की प्रतिमा विसर्जन आसपास के तालाब वे नदियों में किया। वहीं कई क्लब व संगठनों द्वारा मंगलवार को प्रतिमा का विसर्जन किया जायेगा।

हवन में शामिल हुए छात्र

सरस्वती

बसंत पंचमी के दूसरे दिन सोमवार को पहले पहर में जहां माता सरस्वती की श्रद्धाभाव से पूजा-अर्चना करने के साथ ही हवन में श्रद्धालुओं ने पूर्णाहुति दी। वहीं हवन के बाद माता को चुड़ा-दही का भोग लगाकर भक्तों के बीच प्रसाद का वितरण किया गया। इस दौरान शहर के हर स्कूल-काॅलेज में उत्साह देखने को मिला। वहीं दोपहर के बाद शहर के हर स्कूल-काॅलेज व निजी शिक्षण संस्थानों के छात्रों ने पूरे श्रद्धाभाव के साथ अबीर व गुलाल उड़ाते हुए माता की प्रतिमा को विभिन्न वाहनों के माध्यम से बरवाडीह स्थित मानसरोवर, महादेव तालाब, बरमसिया सहित विभिन्न तालाबों पर पहुंचे और जयकारा लगाते हुए प्रतिमा का विसर्जन किया।

मस्ती में डूबे थे क्लब व समिति के युवा

सरस्वती

इधर कई क्लब व समितियों द्वारा भी पूरे उत्साह के साथ मां सरस्वती की प्रतिमा का विसर्जन किया गया। लेकिन इनके द्वारा प्रतिमा विसर्जन के दौरान श्रद्धा कम मस्ती अधिक झलक रही थी। मां प्रतिमा को विसर्जन के लिये ले जाने के क्रम में भक्ति गीत के बजाय फिल्मी गीत बजाये जा रहे थे। इधर विसर्जन को लेकर नगर थाना पुलिस भी चुस्त रही। जिन-जिन स्थलों से विसर्जन जुलूस गुजर रही थी, वहां पर पुलिस के जवान तैनात दिखे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….