झामुमो की संघर्ष यात्रा की सफलता को लेकर हुई बैठक, कार्यक्रम की बनाई गई रूपरेखा

झामुमो की संघर्ष यात्रा की सफलता को लेकर हुई बैठक, कार्यक्रम की बनाई गई रूपरेखा
  • 25
    Shares

12 को राजधनवार से से जिले में प्रवेश करेगी हेमंत की संघर्ष यात्रा

जमुआ(गिरिडीह)। जमुआ स्थित डाकबंगला में बुधवार को झारखण्ड मुक्ति मोर्चा की एक बैठक प्रखंड अध्यक्ष राजकुमार राय की अध्यक्षता में हुई। बैठक में मुख्य रूप से सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री व झामुमो के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन द्वारा आहूत छोटानागपुर प्रमंडल संघर्ष यात्रा को सफल बनाने को लेकर चर्चा की गई। बताया गया कि 12 फरवरी को राजधनवार में पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कार्यक्रम को संबोधन करने के पश्चात झारखण्डधाम में पूजा अर्चना करेंगे। उसके बाद व्यवसायिक मंडी रेम्बा में उनका भव्य अभिनंदन होगा। जमुआ चैक में शाम 6 बजे आम आवाम को संबोधित करेंगे। बताया गया कि 12 जनवरी के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये सघन जनसंपर्क अभियान चलाने के साथ ही पम्पलेट, बैनर, ध्वनि विस्तारक यंत्र से जोरदार प्रचार प्रसार किया जा रहा है। बताया कि जमुआ प्रखंड को चार जोन में विभक्त कर कार्यकर्ताआंे को जिम्मेवारी सौपी गई है।

रघुवर सरकार हर मोर्चे पर विफल

बैठक को संबोधित करते हुए पार्टी की केंद्रीय सदस्य सोनी चैरसिया ने कहा कि रघुवर सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है। भाजपा सरकार के कार्यकाल में चारों तरफ सिर्फ  अराजकता बढ़ी है। जमुआ विधानसभा प्रभारी प्रदीप हजरा ने कहा कि रघुवर सरकार से जनता त्रस्त है, अब लोगों की उम्मीद हेमंत सोरेन पर टिकी हुई है। कहा कि इस बार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री के लिये एकमात्र विकल्प हेमंत सोरेन ही होंगे और इन्हे जनादेश मिलना तय है। पार्टी के प्रखंड सचिव रंजीत कुमार ने कहा कि रघुवर सरकार का पतन सुनिश्चित है। बैठक में अशोक वर्मा, दिनेश मंडल, रवीन्द्र कुमार सिंह, दिलीप हजरा, उमेश कुमार पासवान, लट्टू पाण्डेय, उमेश राय, दामोदर यादव, रघुनाथ सिंह ने विचार व्यक्त किये। उक्त अवसर पर सहदेव प्रसाद सिंह, राजकुमार राम, शक्ति हजरा, अहमद अंसारी, गाजो हजरा, शिव हजरा सहित अन्य झामुमो कार्यकर्ता मौजूद थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….