गिरिडीह पहुंचे उतराखंड के सीएम रावत, चुनाव को लेकर कार्यकर्ताओं का बढ़ाया हौसला

गिरिडीह पहुंचे उतराखंड के सीएम रावत, चुनाव को लेकर कार्यकर्ताओं का बढ़ाया हौसला
  •  
  • 21
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    21
    Shares

कहा पार्टी के कार्यकर्ता ही नेताओं को पहनाते है सत्ता  का ताज

गिरिडीह। गिरिडीह की उपनगरी पचंबा स्थित तैतरिया मैदान में भाजपा की ओर से आयोजित प्रमंडलीय शक्ति केन्द्र प्रमुख कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उत्तराखंड के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कार्यकर्ताओं को मजदूर की संज्ञा देते हुए कहा कि मेहनत कर कार्यकर्ता ही सत्ता तक पार्टी के नेेताओं को पहुंचाया है। हर भाजपाईयों के लिए यह गर्व की बात है कि भाजपा विश्व में सबसे बड़ा दल बनकर उभरा है। सीएम रावत ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को राजनीति का चाणक्य बताते हुए कहा कि मेहनत के बलबूते ही शाह बूथ कार्यकर्ता से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनें है।

बजट को बताया चुनाव के लिये जीत का आधार

उत्तराखंड सीएम रावत ने मोदी सरकार के बजट को चुनाव में कार्यकर्ताओं के लिए जीत का मजबूत आधार बताते हुए कहा कि किसानों से लेकर कारोबारियों तक को बजट में शामिल किया गया है। हर घर में पानी, शौचालय और गैस कनेक्शन का सपना पीएम मोदी ने पूरा कर हर कार्यकर्ता को खुद पर भाजपाई होने का गर्व प्रदान किया है।

पाकिस्तान में घूसकर सर्जिकल स्ट्राईक करने की हिम्मत पीएम मोदी में

कार्यकर्ताओं के बीच सीएम रावत ने पीएम मोदी के कार्यकाल में किए गए सर्जिकल स्ट्राईक का जिक्र करते हुए कहा कि देश की सुरक्षा में पीएम मोदी ही इतना बड़ा और कड़ा निर्णय ले सकते है। पाकिस्तान में घुसकर दुश्मनों को मुंहतोड जवाब देकर पीएम मोदी ने पूरे विपक्षी दलों के मुंह में ताला जड़ने का काम किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं को सीएम रावत ने भरोसा दिलाया कि राम मंदिर का निर्माण भी पीएम मोदी ही करेगें। यह अलग बात रही कि भाजपा के अन्य नेताओं की तरह सीएम रावत ने भी मंदिर निर्माण की तिथि की घोषणा नहीं की।

2019 के चुनाव के बाद संवरेगा देश का भविष्य

प्रमंडलीय सम्मेलन के दौरान मौजूद कार्यकर्ताओं के बीच रावत ने यकीन दिलाया कि 2019 के चुनाव के बाद देश का भविष्य संवरना तय है। क्योंकि मोदी के प्रति वोटरों की उम्मीदें अब और बढ़ गई है। वहीं संबोधन के क्रम में रावत ने झारखंड के सीएम के कार्यकाल की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि सुकन्या योजना इसका उदाहरण है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….