हुसैनीवाला बार्डर को खोलने की दिशा में होगी पहल- नवजोत सिंह सिद्धू

हुसैनीवाला बार्डर को खोलने की दिशा में होगी पहल- नवजोत सिंह सिद्धू
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 2
  •  
  •  
    2
    Shares

दोनों देशों की सहमति से हो रहा है काम

पंजाब। पूर्व क्रिकेटर सह पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने भारत और पाकिस्तान के लोगों के लिए फिरोजपुर के हुसैनीवाला बार्डर को खोलने की बात कही है। उन्होंने यह बात रविवार को वर्ल्ड वेटलैंड डे पर हरिके वेटलैंड में वर्ड फेस्टिबल के दौरान बतौर मुख्य अतिथि कही। उन्होने कहा कि वे इसके लिए पूरी शिद्दत से प्रयासरत हैं। सिद्धू ने कहा कि हुसैनीवाला बार्डर को खोलने के लिए पाकिस्तान की ओर से लगभग 45 फिसद काम पूरा कर लिया गया है। यह प्रयास दोनों देशों की सहमति से संपन्न हो रहा है।

गुरू नानक देव की कर्मभूमि पर उपजाया जाएगा फसल

करतारपुर में बाबा नानक की 104 एकड़ जमीन थी, जिस पर वे खेती करते थे। उस जमीन को उपजाऊ बनाया जाएगा। वहां फसल उपजाया जाएगा, और श्रद्धालुओं की बीच लंगर बरताया जाएगा।

पाकिस्तान को घड़ियाल देकर लाएंगे डॉल्फिन

उन्होंने कहा कि 4100 हेक्टेयर में फेले हरिके वेटलैंड को और अधिक विकसित करने के लिए 16 प्वाइंटों पर 150 करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे। इसके लिए अगले छह माह में काम भी शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इंडस डॉल्फिन को स्टेट फिश घोषित किया है। इसे ध्यान में रखते हुए पाकिस्तान को घड़ियाल देकर 150 इंडस डॉल्फिन मंगवाया जाएगा। साथ ही तीन लाख देसी किक्कर भी लगाए जाएंगे।

अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल के रूप में करेंगे विकसित

वेटलैंड की सुंदरता को बढ़ाने के लिए जलकुंभी को नष्ट कर कमल व वाटर लिली के पौधे लगाए जएंगे। सिद्धू ने कहा कि इससे आय भी बढ़ोत्तरी होगी। वहीं सतलज नदी के दूषित जल को साफ करने के लिए ट्रीटमेंट प्लांट लगाकर कश्मीर की डल झील जैसा रूप दिया जाएगा।  काम पूरा हो जाने के बाद इसे अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की दिशा में पहल की जाएगी। और यहां से पक्षियों व मछलियों के शिकार पर सख्ती से पाबंदी लगाई जाएगी।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….