150 चुनाव पर्यवेक्षकों ने दी गई ट्रेनिंग, मिली ईवीएम के तकनीकी जानकारी
गिरिडीह झारखंड

150 चुनाव पर्यवेक्षकों को दी गई ट्रेनिंग, मिली ईवीएम की तकनीकी जानकारी

  • 16
    Shares

मुख्य चुनाव आयुक्त के राज्य दौरे से पहले पर्यवक्षकों को मिला प्रशिक्षण

गिरिडीह । चुनाव का शंखनाद होने में अभी कुछ समय है। लेकिन चुनाव की सुगबुगाहट शुरू हो चुकी है। इसी क्रम में सोमवार को समाहरणालय सभाकक्ष में जिला निर्वाचन कार्यालय ने मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कर पर्यवक्षकों को ईवीएम और वीवीपैट का प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण में करीब 150 से अधिक पर्यवक्षकों ने हिस्सा लिया।

उपायुक्त समेत कई अधिकारी रहे मौजूद

सदर अंचल के सीओ धीरज ठाकुर ने ईवीएम और वीवीपैट की जानकारी दी। जबकि प्रशिक्षण में प्रभारी डीसी मुकुंद दास, प्रशिक्षु आईएएस प्रेरणा दीक्षित के अलावे सदर अनुमंडल पदाधिकारी राजेश प्रजापति, डुमरी एसडीओ, खोरीमहुआ एसडीओ और सरिया-बगोदर एसडीओ समेत उपनिर्वाचन पदाधिकारी अशोक दास और कई प्रखंड विकास पदाधिकारी मौजूद थे।

ईवीएम की पूरी तकनीकी जानकारी जरूरी

150 चुनाव पर्यवेक्षकों ने दी गई ट्रेनिंग, मिली ईवीएम के तकनीकी जानकारी

एक दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षक ठाकुर ने मौजूद पर्यवक्षकों के बीच कहा कि अब ईवीएम में नोटा का भी इस्तेमाल होना शुरू हो चुका है। ऐसे में जितने बटन नोटा के लिए दबाएं जाएगे, उनकी गिनती भी की जाएगी। सीओ ठाकुर ने प्रशिक्षण के क्रम में बताया कि ईवीएम और वीवीपैट मशीन के इस्तेमाल से पहले उनकी जानकारी होना बेहद जरूरी है। जिससे सही तरीके से मतदान और मतगणना हो सके। एक ईवीएम में आठ से 10 प्रत्याशियों के नाम और चुनाव चिन्ह अंकित किए जा सकते हैं। संख्या बढ़ने पर दूसरा ईवीएम इस्तेमाल किया जाता है।

इधर उप निर्वाचन पदाधिकारी अशोक दास ने बताया कि पर्यवक्षकों को इस प्रशिक्षण से जानकारी लेने के बाद अब यही प्रशिक्षक की भूमिका में बूथवार, पंचायत और प्रखंड के कर्मियों को ईवीएम और वीवीपैट इस्तेमाल की पूरी जानकारी देंगे। उपनिर्वाचन पदाधिकारी ने यह भी कहा कि चुनाव की घोषणा में काफी कम समय रह गया है। ऐसे में बूथवार, पंचायत और प्रखंडवार कर्मियों को प्रशिक्षण देना भी जरूरी है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….