17 जनवरी से अनिश्चितकालीन धरना पर बैठेंगे होमगार्ड जवान

17 जनवरी से अनिश्चितकालीन धरना पर बैठेंगे होमगार्ड जवान
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 32
  •  
  •  
    32
    Shares

सरकार के कार्यप्रणाली से नाराज है झारखंड होमगार्ड संघ

बिरनी(गिरिडीह)। होमगार्ड संघ के जिला अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह ने बुधवार को बिरनी प्रखण्ड मुख्यालय में पत्रकारों को बताया कि वर्तमान भाजपा सरकार के कार्यप्रणाली के विरुद्ध 17 जनवरी से झारखण्ड प्रदेश होमगार्ड संघ विधानसभा का घेराव कर अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन करेगी। बताया कि वर्ष 1947 में होमगार्ड की स्थापना हुई थी और 1962 में होमगार्ड नियमावली बनी। होमगार्ड को ड्यूटी के दौरान पुलिस मेनुअल लागू होता है। जो कि पुलिस के साथ-साथ कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करने वाले होमगार्ड जवानों के साथ नहीं होता है।

 वर्ष में सिर्फ चार महिने ही दी जाती है ड्युटी

कहा कि एक ओर जहां होगार्ड के जवान मात्र चार सौ रुपये प्रतिदिन भत्ता पर कार्य करते है वहीं दूसरी ओर उन्हें वर्ष में मात्र चार माह ही कार्य दिया जाता है, जो होमगार्ड जवानों के साथ अन्याय है। कहा कि विभागीय अधिकारियों द्वारा कुछ होमगार्ड को बिना स्पष्टीकरण दिए ही सेवा भी समाप्त कर दिया गया है। कहा कि अपनी मांगों को लेकर होमगार्ड संघ कई बार जिला और प्रदेश स्तर पर आंदोलन कर चुका है, लेकिन सरकार होमगार्ड जवानों के प्रति कोई सकारात्मक पहल नहीं कर रही है। जिसके कारण गुरुवार से झारखण्ड प्रदेश के 29 हजार पांच सौ होमगार्ड जवान अनिश्चित कालीन धरना पर जा रहे हैं।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….