सरिया : स्थापना दिवस के बहाने पारा शिक्षकों ने दिखाई ताक़त, आर पार की लड़ाई की दी चेतावनी

सरिया : स्थापना दिवस के बहाने पारा शिक्षकों ने दिखाई ताक़त, आर पार की लड़ाई की दी चेतावनी
  •  
  • 7
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    7
    Shares

सरिया(गिरिडीह)। पारा शिक्षक संघ का 16 वां स्थापना दिवस मंगलवार को सरिया में उत्साह पूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम में उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल के सभी जिलों से लगभग बीस हजार पारा शिक्षकों का जुटान हुआ और स्थापना दिवस के बहाने पारा शिक्षकों ने शक्ति प्रदर्शन कर रघुवर सरकार को चेताया।

रैली निकालकर दिखाई ताक़त

सरिया : स्थापना दिवस के बहाने पारा शिक्षकों ने दिखाई ताक़त, आर पार की लड़ाई की दी चेतावनी

कार्यक्रम के पूर्व सरिया डीएवी स्कूल के समीप पारा शिक्षकों का जुटान हुआ और वहाँ से पंक्तिबद्ध होकर रैली निकाली गई। रैली पूरे सरिया बाजार का भ्रमण करने के बाद हाई स्कूल स्टेडियम पहुंची और सभा मे तब्दील हो गयी। रैली के दौरान पारा शिक्षकों ने जमकर सरकार विरोधी नारे लगाए और अपने आक्रोश को जाहिर किया। इस दौरान समान काम के बदले समान वेतन देना होगा, रघुवर सरकार मुर्दाबाद, सांसद, विधायक हाय हाय, पारा एकता जिंदाबाद आदि के नारे बुलंद किये गए।

आर पार की होगी लड़ाई

सरिया : स्थापना दिवस के बहाने पारा शिक्षकों ने दिखाई ताक़त, आर पार की लड़ाई की दी चेतावनी

रैली के बाद हाई स्कूल स्टेडियम में स्थापना दिवस कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर किया गया। जिसके बाद बारी बारी से वाक़ताओं ने अपने विचार रखे और अपनी मांगों के समर्थन में आंदोलन को और धरदार बनाने की बात कही। इस दौरान वाक़ताओं ने सरकार को चुनौती देते हुए आर पार की लड़ाई लड़ने की बात कही।

मांगे पूरी होने तक जारी रहेगा आंदोलन

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए संघ के प्रदेश अध्यक्ष संजय दुबे सरकार शिक्षा का अधिकार कानून लागू कर सबको शिक्षा देने का दम भर रही है। मगर शिक्षा का अलख जगाने वाले पारा शिक्षकों के अधिकार का हनन सरकार द्वारा किया जा रहा है।कहा कि पारा शिक्षकों से सरकार पूरा काम तो ले रही है मगर जब अपना हक मांगते हुए पारा शिक्षक समान काम के बदले समान वेतन की मांग करते हैं तो उनपर लाठियां गोलियां बरसाई जाती है। उन्होंने कहा कि रघुवर सरकार इतनी हठधर्मिता पर उतर आई है कि हड़ताल के दो महीने गुजर जाने के बाद भी कान में जूँ तक नही रेंगा है। अगर जल्द सरकार पारा शिक्षकों के मसले पर विचार नही करेगी तो आंदोलन और भी उग्र होगा।

वहीं जिलाध्यक्ष नारायण महतो ने अपने संबोधन में आंदोलन को क्रमबद्ध रखते हुए मांगो की प्राप्ति तक जारी रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि अगर 18 जनवरी तक सरकार कोई निर्णय नही लेती है तो 19 जनवरी को गोड्डा में आयोजित भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के कार्यक्रम का पारा शिक्षक बहिष्कार करेंगे। कहा फिर भी सरकार ने कोई कदम नही उठाया तो प्रमंडल स्तर पर जोरदार आंदोलन किया जाएगा।

भाजपा के खिलाफ छेड़ा जाएगा अभियान

कार्यक्रम को अन्य कई वाक़ताओं ने भी संबोधित करते हुए रघुवर दास और स्थानीय सांसद विधायकों को जमकर कोसा। मौके पर संघ के नेताओं ने कहा कि अब लड़ाई आर पार की होगी। पारा नेताओ ने चेतावनी दी कि अगर सरकार इनकी मांगो पर गंभीर नही होगी तो पारा शिक्षक भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ अभियान चलाएंगे। जन जन तक भाजपा सरकार की गलत नीतियों को पहुंचाया जाएगा और चुनावी मैदान में भाजपा को शिकस्त दिलाने का काम करेंगे।

ये लोग थे उपस्थित

कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष नारायण महतो ने की जबकि संचालन जिला सचिव मुनचुन अंसारी ने किया। वहीं मौके पर भुनेश्वर महतो, महादेव पासवान, अरुण दास, राजेश चौधरी, शिवशंकर रूपांशु, रामेश्वर यादव, सुधीर महतो, मनोज शर्मा, महेश वर्मा, अशोक विश्वकर्मा, राजेन्द्र ठाकुर, सीताराम विश्वकर्मा, कंचन कुमारी, बसंती कुमारी, किरण वर्मा, संगीता कुमारी, चंपा ठाकुर काफी संख्या में पारा शिक्षक उपस्थित थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….