साहित्य : कथाकार रामधारी सिंह दिवाकर को मिला श्रीलाल शुक्ल स्मृति इफको सम्मान
झारखंड साहित्य

साहित्य : कथाकार रामधारी सिंह दिवाकर को मिला श्रीलाल शुक्ल स्मृति इफको सम्मान

  • 14
    Shares

नई दिल्ली। उर्वरक क्षेत्र की अग्रणी सहकारी संस्था इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर को-ऑपरेटिव लिमिटेड (इफको) ने वरिष्ठ कथाकर रामधारी सिंह दिवाकर को वर्ष 2018 का ‘श्रीलाल शुक्ल स्मृति इफको साहित्य सम्मान’ देने की घोषणा की है.

इफको ने आज बताया कि कथाकार रामधारी का चयन उनके व्यापक साहित्यिक अवदान को ध्यान में रखकर किया गया है. डीपी त्रिपाठी की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने उनका चयन किया है. समिति में मृदुला गर्ग, राजेन्द्र कुमार, मुरली मनोहर प्रसाद सिंह, इब्बार रब्बी और दिनेश कुमार शुक्ल शामिल थे.

इसे भी पढ़ें-बगोदर : श्रीलंका के जेल में बंद है बगोदर का युवक, वतन वापसी की गुहार

निर्णायक मंडल के निर्णय पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुये इफको के प्रबंध निदेशक डॉ. उदय शंकर अवस्थी ने कहा कि “खेती–किसानी को अपनी रचना का आधार बनाने वाले कथाकार रामधारी सिंह का सम्मान देश के किसानों का सम्मान है.

बिहार के प्रतिनिधि कथाकार हैं रामधारी सिंह दिवाकर

”बिहार के अररिया जिले के गाँव नरपतगंज के एक निम्न मध्यम वर्गीय किसान परिवार में जन्मे रामधारी सिंह मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा (बिहार) के हिन्दी विभाग के प्रोफेसर पद से सेवानिवृत्त हुये. वह बिहार राष्ट्रभाषा परिषद, पटना के निदेशक भी रहे. उनकी अनेक कहानियाँ विभिन्न भारतीय भाषाओं में अनूदित-प्रकाशित हुई हैं. ‘शोकपर्व’ कहानी पर दिल्ली दूरदर्शन ने फिल्म भी बनायी.

इसे भी पढ़ें-नवरात्र का तीसरा दिन, ऐसे करें माँ दुर्गा के चंद्रघंटा स्वरूप की पूजा

रामधारी सिंह की कहानी ‘मखान पोखर’ पर भी फिल्म बन चुकी है. उनकी रचनाओं में ‘नये गाँव में’, ‘अलग-अलग अपरिचय’, ‘बीच से टूटा हुआ’, ‘नया घर चढ़े’, ‘सरहद के पार’, ‘धरातल, माटी-पानी’, ‘मखान पोखर’, ‘वर्णाश्रम’, ‘झूठी कहानी का सच’ (कहानी-संग्रह) और ‘क्या घर, क्या परदेस’, ‘काली सुबह का सूरज’, ‘पंचमी तत्पुरुष’, ‘दाख़िल–ख़ारिज’, ‘टूटते दायरे’, ‘अकाल संध्या’ (उपन्यास); ‘मरगंगा में दूब’ (आलोचना) प्रमुख हैं.

31 जनवरी को दिया जाएगा सम्मान

सम्मानित साहित्यकार को एक प्रतीक चिह्न, प्रशस्ति पत्र तथा 11 लाख रुपये की राशि का चेक प्रदान किया जाता है. रामधारी सिंह को यह सम्मान 31 जनवरी, 2019 को नयी दिल्ली में एक समारोह में प्रदान किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें-रांची : मधु कोड़ा की पत्नी गीता कोड़ा कांग्रेस में शामिल, राहुल गांधी से करेंगी मुलाकात

164 Replies to “साहित्य : कथाकार रामधारी सिंह दिवाकर को मिला श्रीलाल शुक्ल स्मृति इफको सम्मान

  1. It is in reality a nice and useful piece of information. I’m satisfied that you shared this helpful info with us. Please stay us informed like this. Thanks for sharing.

  2. Hello! This post could not be written any better! Reading through this post reminds me of my good old room mate! He always kept chatting about this. I will forward this post to him. Pretty sure he will have a good read. Thank you for sharing!

  3. Rare baneful diabetic – I’m not more if Set aside is solely to be another protected deficiency broad, but I bolus it’s strongest as neonatal and abdominal and hemolytic as a reasonable extra. 20mg cialis cialis buy cialis online

  4. Whats up very cool web site!! Man .. Beautiful ..
    Wonderful .. I will bookmark your blog and take the feeds also?

    I am glad to find a lot of helpful information here within the post, we need work out extra
    techniques in this regard, thanks for sharing. . . . . . https://www.wisig.org/

  5. Hi there would you mind stating which blog platform you’re using?
    I’m going to start my own blog soon but I’m having a hard time selecting between BlogEngine/Wordpress/B2evolution and Drupal.
    The reason I ask is because your design and style seems
    different then most blogs and I’m looking for something unique.
    P.S My apologies for getting off-topic but I had to
    ask! http://cleckleyfloors.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published.