मधुबन : प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन, सुनी गई जनता की फरियाद
गिरिडीह झारखंड टॉप-न्यूज़ पीरटांड़

मधुबन : प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन, सुनी गई जनता की फरियाद

उपायुक्त ने कहा समस्या होने पर सीधे प्रशासन के पास पहुंचे मजदूर

मधुबन(गिरिडीह)। प्रसिद्ध जैन तीर्थ स्थल मधुबन स्थित हटियाटांड़ में सोमवार को जिला प्रशासन की ओर से प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में उपायुक्त नेहा अरोड़ा मुख्य रूप से उपस्थित होकर लोगों की समस्याओं को सुना। इस दौरान ना केवल डोली मजदूरों और संस्था के कर्मियों की समस्याओं को सुना गया बल्कि विभिन्न विभागों के स्टॉल लगाकर क्षेत्र की जनता समस्याओं का निष्पादन किया गया। कार्यक्रम में मजदूरों एवं ग्रामीणों के बीच कंबल, हेल्थ कार्ड आदि के वितरण के साथ- साथ गोद भराई और मुँह जूठी का रश्म भी पूरा कराया गया।

कार्यक्रम के पूर्व उपायुक्त ने हटियाटांड़ के समीप दाल भात योजना केंद्र एवं मधुबन के यात्री निवास परिसर में सूचना केंद्र का उद्घाटन किया। बताया गया डोली मजदूरों को भोजन की सुविधा मुहैया कराने के लिए दाल भात केंद्र एवं यात्रियों को तीर्थ स्थल से संबंधित पूरी जानकारी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सूचना केंद्र खोला गया है।

समस्याओं को सुन निष्पादन का निर्देश

कार्यक्रम में उपायुक्त ने डोली मजदूरों एवं कर्मचारियों के साथ-साथ ग्रामीणो के समस्याओं को सुना और पदाधिकारियों को उसके निष्पादन का निर्देश दिया। उपायुक्त ने लोगों को आश्वस्त किया कि किसी भी कीमत पर मजदूरों एवं कर्मियों का शोषण नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन डोली मजदूरों को निबंधन, पहचान पत्र, पेयजल और आवास समेत अन्य सुविधाएं मुहैया कराने की दिशा में कार्यरत है।

मधुबन : प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन, सुनी गई जनता की फरियाद

उन्होंने कहा कि मधुबन में एक सिंगल विंडो खोला जाएगा जहाँ मजदूरों से संबंधित हर प्रकार के आवेदन स्वीकार किये जायेंगे। मौके पर उन्होंने डोली मजदूरों को गोल्डन हेल्थ कार्ड बनवाने की सलाह दी। उन्होंने मजदूरों से अपील किया कि वे लोग अपनी किसी भी समस्या को लेकर किसी राजनीतिक दल के पास नहीं जाए।

राजनीतिक दलों के हस्तक्षेप से ज़्यादातर समस्याएं उलझ जाती है। उन्होंने मजदूरों में से ही किसी को अपना प्रतिनिधि चुन कर सीधे प्रशासन से संपर्क करने की बात कही। इस दौरान उपायुक्त ने डोली मजदूरों को तीर्थ यात्रियों के साथ अच्छा व्यवहार करने की बात कही, ताकि यात्री उनके व्यवहार से प्रभावित हो सकें।

ये रहे उपस्थित

कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के अलग-अलग स्टॉल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना गया और कई मामलों का ऑन द स्पॉट निष्पादन किया गया। कार्यक्रम में उप विकास आयुक्त मुकुंद दास, प्रशिक्षु आईएएस प्रेरणा दीक्षित, डुमरी अनुमंडल पदाधिकारी प्रेमलता मुर्मू, सिविल सर्जन पीरटांड़ बीडीओ नूतन कुमारी, प्रमुख सिकंदर हेम्ब्रम समेत कई विभागों के पदाधिकारी एवं अन्य लोग उपस्थित थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….

Leave a Reply

Your email address will not be published.