शराब के सेवन से दो गांव में 15 की व कैंसर से हुई एक की मौत: डीसी
गिरिडीह झारखंड

शराब के सेवन से दो गांव में 15 की व कैंसर से हुई एक की मौत: डीसी

प्रेसवार्ता कर डीसी राहुल सिन्हा और एसपी सुरेन्द्र झा ने दी जानकारी

अवैध शराब के खिलाफ कार्रवाई के लिए जिले में बनाएं गए दो एसआईटी टीमः एसपी

गिरिडीहः गिरिडीह में 16 लोगों की मौत अत्यधिक शराब के सेवन से हुई है। इसकी पुष्टि डीसी राहुल सिन्हा और एसपी सुरेन्द्र झा ने सोमवार को प्रेसवार्ता के दौरान की। हालांकि दोनों अधिकारियों ने प्रेसवार्ता के क्रम में यह भी कहा कि 16 मौत के दौरान दो लोगांे का पोस्टमार्टम कराया गया। साथ ही पीएमसीएच धनबाद के दो चिकित्सकों की टीम ने दोनों गांव के ग्रामीणों का ब्लड सैंपल लिया है। जिसका रिपोर्ट आने के बाद ही सही तथ्य सामने आ सकता है। वैसे प्रेसवार्ता के क्रम में डीसी ने यह भी कहा कि जिले के दोनों गांवो में मौत की वजह सिर्फ अत्यधिक शराब ही नहीं, बल्कि, जांच के क्रम में यह भी सामने आया कि एक की मौत का कारण कैंसर की बीमारी रहा। दुर्भाग्य से कैंसर से ग्रसित व्यक्ति की मौत इन घटनाओं के बीच ही हुआ।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

मृतकों के आश्रितों को पारिवारिक लाभ की योजना दिलाने की प्रकिया हुई शुरु

कहा कि जितने लोगों की मौत हुई है उसमें दो लोग कोडरमा के थे, ऐसे में दोनों केस कोडरमा रेफर कर दिया है। जिससे दोनों मृतकों के आश्रितों को पारिवारिक लाभ से सहयोग दिलाया जा सकें। वैसे गिरिडीह के जितने केस है उनलोगों को पारिवारिक लाभ की प्रकिया शुरु कर दिया गया है। जिले में लगातार हुए मौत पर दोनों अधिकारियों ने अफसोस जाहिर करते हुए कहा कि राज्य स्तर पर छापेमारी की कार्रवाई शुरु हो चुकी है। अब तक कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है, वहीं बड़े पैमाने पर जावा महुआ भी नष्ट किए गए है। यही नही सरकार के निर्देश पर लगातार प्रभावित गांवो में मेडिकल कैंप लगाकर ग्रामीणों के स्वास्थ जांच भी किया जा रहा है। साथ ही प्रभावित गांवो में जागरुकता अभियान तेज कर दिया गया है कि लोग खुद भी शराब से दूर रहे और दुसरों को भी दूर रहने का सुझाव दे।

नहीं बख्शे जायेंगे शराब के अवैध कारोबारी

इधर एसपी सुरेन्द्र झा ने कहा कि चुनाव के दौरान से ही शराब के अवैध कारोबार के खिलाफ कार्रवाई शुरु हो गई थी। यही नही इन दर्दनाक घटनाओं के बाद पूरे जिले में दो एसआईटी टीम का गठन किया गया है। जो अब उत्पाद विभाग के सहयोग से जिले में छापेमारी अभियान चलाएगा। देवरी और सरिया में अवैध शराब के खिलाफ दो केस दर्ज किए जा चुके है और कार्रवाई भी शुरु हो गई है। एसपी ने भी प्रेसवार्ता के क्रम में कहा कि मौत की वजह अत्यधिक शराब का सेवन करना ही रहा है। लिहाजा, एसआईटी टीम की कार्रवाई नक्सल इलाकों के साथ और दुसरों इलाकों में शुरु हो चुका है। किसी सूरत में जहरीले शराब का कारोबार करने नहीं दिया जाएगा। प्रेसवार्ता में उत्पाद अधीक्षक अवधेश सिंह के अलावे जिला आरसीएच पदाधिकारी डा. सिद्धार्थ सन्याॅल और डीपीआरओ रश्मि सिन्हा भी मौजूद थी।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….