16 मौत के बाद हरकत में आई राज्य सरकार, चिकित्सकों की टीम पहुंची गिरिडीह
गिरिडीह झारखंड

16 मौत के बाद हरकत में आई राज्य सरकार, चिकित्सकों की टीम पहुंची गिरिडीह

चिकित्सकों की टीम ने प्रभावित गांवो में लगाया जांच शिविर, लिया ब्लड सैंपल

गिरिडीह। जिले के सरिया और देवरी में सात दिनों में 16 मौत के बाद राज्य सरकार हरकत में आई और सोमवार को राज्य सरकार के निर्देश पर धनबाद पीएमसीएच के दो चिकित्सकों की टीम गिरिडीह पहुंची। टीम में शामिल पीएमसीएच के चिकित्सक डाॅ. रविरंजन और डाॅ. ए.जे अंसारी सदर अस्पताल पहुंच कर सिविल सर्जन डाॅ. अवधेश सिन्हा से मुलाकात की। इसके बाद सीएस डाॅ. सिन्हा के निर्देश पर जिला आरसीएच पदाधिकारी डाॅ. सिद्धार्थ सन्याल टीम के दोनों चिकित्सकों के साथ सरिया के फकीरापहरी और देवरी के गादीकला गांव का दौरा करने पहुंचे।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

देवरी के गादीकला में पेट दर्द और बुखर से पीड़ित दिखे ज्यादात्तर ग्रामीण

16 मौत के बाद हरकत में आई राज्य सरकार, चिकित्सकों की टीम पहुंची गिरिडीह

दोनों चिकित्सक के साथ आरसीएच पदाधिकारी डाॅ. सन्याॅल पहले सरिया के फकीरापहरी गांव पहुंच कर मेडिकल कैंप लगाया। मेडिकल कैंप में टीम के चिकित्सकों ने पूरे गांव वालों का ब्लड सैंपल इकट्ठा किया। साथ ही ग्रामीणों के स्वास्थ की जांच तो किया। लेकिन स्वास्थ जांच के दौरान फकीरापहरी गांव के कुछ ग्रामीणों को छोड़कर कोई और बीमारी से ग्रसित नहीं दिखा। इसके बाद चिकित्सकों ने ऐसे मरीजों को एहतियातन शराब से दूर रहने का सुझाव देते हुए कुछ दवाई भी उपलब्ध कराया। इधर देवरी के गादीकला गांव में स्वास्थ्य जांच शिविर लगाकर ग्रामीणों के ब्लड सैंपल लेने के बाद उनके स्वास्थ्य की जांच की गई। जिसमें ज्यादात्तर लोग पेट दर्द और बुखार से पीड़ित दिखे। इसके बाद पीएमसीएच के चिकित्सकों ने मरीजों को तत्काल दवा दिया।

जहरीला शराब पीने से मौत होने की जताई संभावना

इधर स्वास्थ जांच और ब्लड सैंपल लेने के बाद दोनों चिकित्सकों ने पत्रकारों से बातचीत के क्रम में मौत की वजह जहरीला शराब का सेवन किया जाना बताया। रविवार की रात सदर अस्पताल में भर्ती सरिया के एक और व्यक्ति के मौत होने की बात कही गई। इन दोनों गांवो में तेजी से होते मौत के बाद अब डीसी राहुल सिन्हा के निर्देश पर ग्रामीण क्षेत्रों में वाद्य यंत्रो से नशे के सेवन से बचने के लिए जागरुकता अभियान भी चलाया जा रहा है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….