15 मौत के बाद उत्पाद विभाग की खामोशी टूटी
गिरिडीह झारखंड

15 मौत के बाद उत्पाद विभाग की खामोशी टूटी

एक ही दिन में कई स्थानों में छापेमारी कर जावा महुआ को किया नष्ट

गिरिडीह। जिले में शराब पीने 15 मौत के बाद उत्पाद विभाग की खामोशी टूटी, तो रविवार को उत्पाद विभाग और पुलिस ने कई स्थानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी अभियान चलाया। लेकिन कार्रवाई के दौरान न तो किसी धंधेबाज की पहचान हो पाई और न ही किसी की गिरफ्तारी ही हो पाई है। सिर्फ महुआ शराब को तैयार किए जाने वाले जावा महुआ के साथ जहरीला महुआ शराब को नष्ट किया गया है।

उत्पाद विभाग की कार्रवाई की शुरुआत देवरी के पलमरुआ से किया गया। जहां दो ड्रम में रखे जावा महुआ को नष्ट किया गया। इसके बाद देवरी के खाजाटोला गांव में ही 30 लीटर महुआ शराब को नष्ट करने के साथ जावा महुआ को भी नष्ट किया गया। वहीं बगोदर में ही एक धंधेबाज को दबोचा गया। साथ ही उसके पास से अवैध शराब को भी जब्त किया गया। इसके बाद पुलिस और धनवार के कोदंबरी समेत करिहारी स्थित कई लाईन होटल में कार्रवाई हुई। करिहारी में ही आधा दर्जन शराब भट्टी को तोड़ा गया। साथ ही इस दौरान जावा महुआ को नष्ट किया गया। कार्रवाई के क्रम में लाईन होटल के समीप खड़े बाईकों का भी जांच किया गया। लेकिन पुलिस और उत्पाद विभाग को कुछ हाथ नहीं लगा।

गुप्त सूचना के आधार पर जब करिहारी गांव में बद्री पंडित के अड्डे पर छापेमारी किया गया। जहां बद्री पंडित अवैध शराब बनाने का धंधा कर रहा था। उत्पाद अधीक्षक अवेधश सिंह के अनुसार अब कार्रवाई लगातार जारी रहेगा।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….