छह दिनों में जिले के सरिया और देवरी में 15 लोगों की मौत
गिरिडीह झारखंड

छह दिनों में जिले के सरिया और देवरी में 15 लोगों की मौत

दो दिनों में सरिया में सिर्फ एक साथ छह की मौत

लगातार हो रहे मौत के बाद प्रशासन और स्वास्थ विभाग के उड़े होश

विधायक के साथ गांव पहुंचे सिविल सर्जन

गिरिडीहः जिले के सरिया और देवरी में मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब मौत किसी अज्ञात बीमारी से हो रही है या जहरीला शराब मौत का कारण बन रहा है। यह बताने में स्वास्थ विभाग खुद उलझन में है। लेकिन छह दिनों में 15 लोगों की मौत हो चुकी है। वैसे सिविल सर्जन डाॅ. अवधेश सिन्हा शनिवार तक मौत की वजह जहरीला शराब का सेवन करना बता रहे थे। लेकिन रविवार को सरिया के फकीरापहरी में दो लोगों की मौत के बाद अब सिविल सर्जन बैकफुट पर रहते हुए साफ तौर पर कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत की वजह बताई जा सकती है।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

डीसी ने जताई शराब के सेवन से मौत होने की संभावना

छह दिनों में जिले के सरिया और देवरी में 15 लोगों की मौत

हालांकि रविवार को हुए तीन लोगों की मौत के बाद डीसी राहुल सिन्हा ने कहा कि अब तक मौत का कारण शराब का सेवन के रुप में सामने आ रहा है। लिहाजा, डीसी ने देवरी और सरिया के प्रभावित गांव के ग्रामीणों से अपील करते हुए कहा कि जिन लोगों ने शराब का सेवन किया है। वह खुद सामने आ कर इलाज कराएं, जिससे उनकी जिंदगी को सुरक्षित किया जा सकें।

मृतक के बिसरा को जांच के लिए भेजा जायेगा रिम्स

छह दिनों में जिले के सरिया और देवरी में 15 लोगों की मौत

रविवार को जिन लोगों की मौत हुई उसमें सरिया के फकीरापहरी गांव के 45 वर्षीय दिलेशवर तूरी और 65 वर्षीय अवधेशवर रजक शामिल है। जबकि देवरी के गादीकला गांव के 25 वर्षीय युवक पिंटू राय की मौत भी रविवार को हो गई। तीनो के मौत के बाद रविवार को तीनों के शव सदर अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए लाया गया। जहां सिविल सर्जन के निर्देश पर मेडिकल बोर्ड का गठन हुआ। मेडिकल बोर्ड में डा. उपेन्द्र दास के अलावे डा. अरुण कुमार और डा. राजीव कुमार शामिल थे। जानकारी के अनुसार पोस्टमार्टम के बाद तीनों के शव के बिसरा को रांची रिम्स एफएसएल जांच के लिए भेजा जाएगा। जिससे मौत का वास्तविक कारण सामने आ सके।

सीएस और विधायक की मौजदूगी में सरिया से तीन लोगों किया रांची रेफर

शनिवार को सरिया के इसी गांव से अत्यधिक बीमार तीन लोगों को रांची रिम्स रेफर किया गया। इसमें सुरेश रजक, महादेव तूरी और विजय रजक शामिल है। जिन्हें सरिया अस्पताल के चिकित्सक डाॅ. विनय कुमार के नेत्तृव में रिम्स रेफर किया गया। जांच में मौत और रेफर किए गए लोगांे की वजह शराब का सेवन किया जाना बताया जा रहा है। दर्जन भर लोगांे के मौत के बाद शनिवार को जब स्वास्थ विभाग की नींद टूटी, तो भागे-भागे खुद सिविल सर्जन डाॅ. अवधेश सिन्हा चिकित्सकों की टीम के साथ सरिया के फकीरापहरी गांव पहुंचे। जहां बगोदर विधायक विनोद सिंह की उपस्थिति रेफर किए गए लोगों के खून के सैंपल लिए गए।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….