अभिभावक जागरुकता कार्यक्रम के तहत निकाला गया मार्च
गांवां झारखंड

अभिभावक जागरुकता कार्यक्रम के तहत निकाला गया मार्च

बच्चों ने अभिभावकों से किया विद्यालय के प्रगति में योगदान देने का आहवान

गांवा(गिरिडीह)। कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन्स फाउन्डेशन द्वारा गाँवा प्रखंड में संचालित बालमित्र ग्राम डढांे में विद्यालय के समुचित विकास में ग्रामीणांे की भागीदारी बढ़ाने को लेकर बच्चे बच्चियों ने नारे लगाते हुए पूरे गांव का भ्रमण किया। इस दौरान सभी अभिभावकों से अपील किया कि वे सक्रिय रूप से विद्यालय के हर एक गतिविधियों की निगरानी करें। ताकि विद्यालय को एक अलग और विकसित रूप दिया जा सके। निजी विद्यालयों से ज्यादा उच्च कोटी के संसाधन सरकारी स्कूलों में उपलब्ध हैं, फिर भी विद्यालय का सर्वांगिन विकास नहीं हो पाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

विद्यालय के विकास में योगदान दे अभिभावक

मौके पर कहा गया कि हर एक ग्रामीण विद्यालय में अपनी भागीदारी निभाते हुए विद्यालय में सौंदर्यीकरण कार्य और विभिन्न गतिविधियों, शिक्षक-अभिभावक की बैठक, विद्यालय प्रबन्धन समिति की बैठक आदि में सक्रिय रूप से भाग लेकर अभिभावक, विद्यालय और विद्यार्थियों के विकास और उज्ज्वल भविष्य के लिए आगे आए। मौके पर ग्रामीणों ने भी स्कूल के इस प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि 5 मिनट ही सही लेकिन विद्यालय में अभिभावक नित्यप्रति उपस्थित होंगे। साथ ही बताया गया कि उन्हें सिर्फ आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास भी है कि ग्रामीणों कि सक्रियता से एक नए रूप में विद्यालय उभर कर सामने आएगा।

मौके पर थे उपस्थित

इस दौरान संस्था के कार्यकर्ता संदीप नयन, शिक्षक राम भरत कुमार, जितलाल शर्मा, मंजूर आलम, बहादुर मुर्मू, बाबूलाल तुरी, बालेश्वर तुरी, बिजली देवी, सोनी, ज्योति, खुशबु, प्रीती, ज्योति सहित युवा मंडल, महिला मंडल, बाल पंचायत के अन्य सदस्यों सहित सैकड़ों बच्चे और ग्रामीण उपस्थित थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….