गुरुकुलम विद्यालय का हुआ उद्घाटन, शिक्षा की दीप जलाने पर लोगों ने दी बधाई
झारखंड बेंगाबाद

गुरुकुलम विद्यालय का हुआ उद्घाटन, शिक्षा का दीप जलाने पर लोगों ने दी बधाई

बेंगाबाद(गिरिडीह)। प्रखण्ड के डाकबंगला में गुरुकुलम विद्या मंदिर का उद्घाटन गुरुवार को विधिवत रूप से किया गया। उद्घाटन समारोह में अतिथियों का स्वागत विद्यालय के संस्थापक की ओर से बुके देकर किया गया। जिसके बाद विद्यालय का उद्घाटन अतिथियों के हाथों किया गया। समरोह में मुख्य अतिथि के रूप में डीएसपी संदीप सुमन समदर्शी शरीक थे जबकि विशिष्ट अतिथि के रूप में समाजसेवी रूपेश सिंह, एलएनपी पब्लिक स्कूल के डायरेक्टर अवधेश सिन्हा, शिक्षक अजय कुमार महतो, उप प्रमुख उपेंद्र कुमार, दानियाल सोरेन, बासुदेव पंडित, मो फखरुद्दीन समेत अन्य लोग उपस्थित थे। उद्घाटन के बाद यहां बारी बारी से वक्ताओं ने अपने विचार साझा करते हुए शिक्षा को जीवन के लिए महत्वपूर्ण बताया और विद्यालय के उज्जवल भविष्य की कामना की।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

स्किल बेस्ड शिक्षा को दिया जाय बढ़ावा- डीएसपी

गुरुकुलम विद्यालय का हुआ उद्घाटन, शिक्षा की दीप जलाने पर लोगों ने दी बधाई

इस दौरान मुख्य अतिथि ने कहा कि शिक्षा से ही सशक्त समाज का निर्माण सम्भव है। शिक्षा समाज के विकास के साथ समाज को अपराध मुक्त बनाने में भी सहायक है। उन्होंने विद्यालय के संस्थापक को शुभकामनाएं दीं। अपने संबोधन में उन्होंने बेहतर शिक्षा के साथ बच्चों को क्वालिटी के साथ स्किल बेस्ड शिक्षा देने की बात पर बल दिया ताकि बच्चे अपना भविष्य उज्जवल बना सकें। समारोह में अन्य वक्ताओं ने भी अपने विचार दिए और गुरुकुलम विद्यालय के खुलने से क्षेत्र के में शिक्षा जगत में एक नया अध्याय शुरू होने की बात कही।

शिक्षा का दीप जलाकर ही दूर होगा अज्ञानता का अंधेरा

इस दौरान एलएनपी पब्लिक स्कूल के डायरेक्टर अवधेश सिन्हा ने कहा कि विद्यालय का सफल संचालन बेहद चुनौतीपूर्ण कार्य है। बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के साथ उनके भविष्य को गढ़ने की जिम्मेदारी एक शिक्षक की होती है। उन्होंने विद्यालय के संस्थापक को अपनी शुभकामनाएं दीं और क्षेत्र में शिक्षा जगत में एक नई आयाम जुड़ने की बात कही। इधर शिक्षक अजय महतो ने कहा कि शिक्षा का दीप जलाकर अज्ञानता के अंधेरे को दूर करना सबसे बड़ा काम है। शिक्षा के अभाव में अज्ञानता रूपी अंधेरा मनुष्य के जीवन में छाया रहता है।

बेहतर शिक्षा व्यवस्था देना लक्ष्य- संस्थापक

विद्यालय के संस्थापक विपिन सिंह ने कहा कि क्षेत्र में गुणवत्त शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से विद्यालय की शुरुआत की गई है। निश्चित रूप से इसका लाभ क्षेत्र के बच्चों को मिलेगा। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में अच्छे विद्यालय की कमी थी जिससे बच्चों को बेहतर शिक्षा नहीं मिल पाती थी। उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए स्कूल में गुणवत्त शिक्षा के साथ उनके सम्पूर्ण विकास का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….