पारा शिक्षकों ने गिरफ्तारी देने के लिए घेरा नगर थाना, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

पारा शिक्षकों ने गिरफ्तारी देने के लिए घेरा नगर थाना, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी
  •  
  • 31
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    31
    Shares

जेल भरो आंदोलन में जुटे पारा शिक्षक

गिरिडीह। पारा शिक्षकों पर रांची में हुए लाठीचार्ज, 280 पुरूष व 16 महिला पारा शिक्षकों की बगैर शर्त जेल से रिहाई व छतीसगढ़ की तर्ज पर स्थायी करते हुए समान वेतन की मांग को लेकर पारा शिक्षकों ने मंगलवार को गिरिडीह नगर थाना का घेराव किया।

लाठीचार्ज के खिलाफ पारा शिक्षकों में उबाल

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले करीब ढाई सौ पारा शिक्षक झंडा मैदान से निकले। इस दौरान पारा शिक्षकों के साथ रसोईया भी जेल भरो आंदोलन में शामिल हुई। झंडा मैदान से निकल पारा शिक्षक बस पड़ाव के रास्ते शहर भ्रमण करते हुए हुट्टी बाजार होते हुए नगर थाना पहुंचे। गेट बंद देखकर प्रदर्शनकारी थाना के बाहर ही बैठ  गए और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे।

पुलिस थी मुस्तैद

इधर पारा शिक्षकों के जेल भरो आंदोलन को लेकर नगर थाना पुलिस के जवान भी पहले से अलर्ट थे। पारा शिक्षकों की भीड़ शांतिपूर्वक आंदोलन करते हुए रघुवर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते रहे। पारा शिक्षकों के इस आंदोलन में कई महिला रसोईयां अपने बच्चों के साथ भी शामिल हुईं।

पारा शिक्षकों ने गिरफ्तारी देने के लिए घेरा नगर थाना, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

तानाशाह है रघुवर सरकार

प्रदर्शन के दौरान पारा शिक्षक एकीकृत संघर्ष मोर्चा की गिरिडीह अध्यक्ष गीता ने रघुवर सरकार को तानाशाह सीएम बताते हुए कहा कि साल 2014 के विस चुनाव के दौरान भाजपा ने राज्य में सरकार बनते ही पारा शिक्षकों को स्थायी करने का वादा किया था। जिसे अब रघुवर सरकार पूरा नहीं कर रही है।

मोर्चा के नेताओं ने कहा कि जेल भरो आंदोलन सरकार की वादाखिलाफी, छतीसगढ़ की तर्ज पर पारा शिक्षकों को स्थायी करते हुए समान वेतन और रांची में गिरफ्तार महिला और पुरुष शिक्षकों को बिना शर्त रिहा करने की मांग को लेकर किया गया है।

नहीं मानी पुलिस की बात

प्रदर्शनकारी पारा शिक्षकों से वार्ता के लिए पहुंचे नगर थाना प्रभारी विनय राम और महिला थाना प्रभारी विंधवासिनी से पारा शिक्षकों ने कहा कि नगर थाना के बाहर वे लोग अधिक देर तक नहीं बैठेंगे। ऐसे में पुलिस उनलोगों को अब गिरफ्तार करे। लेकिन पारा शिक्षकों के बातों को सुनने के बाद दोनों पुलिस पदाधिकारियों ने कहा कि बगैर किसी कारण के गिरफ्तारी संभव नहीं है। इस पर पारा शिक्षकों का थाना घेराव जारी रखा। समाचार लिखे जाने तक प्रदर्शनकारी पारा शिक्षकों का थाना घेराव आंदोलन जारी था।

ये थे शामिल

इधर प्रदर्शन में इमामुद्दीन अली, रियाजुल हक, रियाजुल अंसारी, अशोक और नीरज साव समेत काफी संख्या में पारा शिक्षक व रसोईया मौजूद थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….