गिरिडीह रेलवे स्टेशन का तीन करोड़ की लागत से हुआ कायाकल्प
गिरिडीह झारखंड दुनिया देश

गिरिडीह रेलवे स्टेशन का तीन करोड़ की लागत से हुआ कायाकल्प

23 जनवरी को होगा उद्घाटन

मई से जून माह तक गिरिडीह को मिल सकती है एक्सप्रेस ट्रेन

 

मनोज कुमार पिंटू

गिरिडीह। तीन करोड़ की लागत से सौ साल पुराने गिरिडीह रेलवे स्टेशन का कायाकल्प होने के बाद आसनसोल रेल डिवीजन ने चमचमाते स्टेशन का उद्घाटन 23 जनवरी को तय कर दिया है। डिवीजन के डीआरएम से उद्घाटन की हरी झंडा मिलने के बाद सोमवार को इसकी पुष्टि करते हुए स्टेशन प्रबंधक मनोज कुमार ने बताया कि 23 जनवरी को स्टेशन का उद्घाटन डीआरएम सौमित्र सरकार, सांसद चन्द्रप्रकाश चाौधरी, विधायक सुदिव्य कुमार सोनू के अलावे डीसी राहुल सिन्हा और एसपी सुरेन्द्र झा संयुक्त रूप से करेगें। स्टेशन प्रबंधक ने यह भी बताया कि बीतें एक सप्ताह पहले ही जब डीआरएम ने स्टेशन का दौरा किया था, उसी समय उद्घाटन की तिथि तय हो चुकी थी। इस दौरान डीआरएम ने सौंदर्यीकरण का कार्य लेने वाले ठेकेदार उमेश सिंह को अधूरे कार्य 22 जनवरी तक पूरा कर लेने का निर्देश दिया था।

 

पार्क व लेडिज फस्र्ट क्लास वेटिंग रूम से लोगों को मिलेगा फायदा

 

स्टेशन प्रबंधक के अनुसार रेलवे स्टेशन में तीन करोड़ की लागत से प्रवेश द्वार बनाने के साथ ही परिसर में पार्क निर्माण का कार्य किया गया है। वहीं स्टेशन में नया रिजर्वेशन कांउटर, लेडिज फस्र्ट क्लाॅस वेटिंग रुम के अलावे काॅमन वेटिंग रुम और डोरमेट्री रिटेयरिंग रुम का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। टाॅयलेट कंफेशन का कार्य भी पूरा हो चुका है। जबकि सिग्नलिंग सिस्टम को भी अपग्रेड किया जा रहा है।

 

इलेक्ट्रिीफिकेशन का कार्य भी हो सकता है जल्द शुरु

 

 

निकट भविष्य में मई से जून माह में गिरिडीह स्टेशन को नए एक्सप्रेस ट्रेन की साौगात मिलने जा रही है। इसके लिए आसनसोल रेल डिवीजन की ओर से जो प्रस्ताव कोलकाता रेल जोन को दिया गया था। उसकी स्वीकृति मिलने की बात कही जा रही है। जिसके लिए जल्द ही इलेक्ट्रिीफिकेशन का कार्य शुरु होने की भी बात सामने आ रही है। गिरिडीह रेलवे स्टेशन के अंतिम छोर में पानी टंकी के समीप रेल यार्ड निर्माण की प्रकिया शुरु कर दी गई है। यार्ड को लेकर रेलवे की जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराते हुए रेल पटरी का विस्तारीकरण का कार्य भी युद्धस्तर पर किया जा रहा है।