अमन हत्याकांड का पचंबा पुलिस ने किया उद्भेदन, एक गिरफ्तार
गिरिडीह झारखंड टॉप-न्यूज़

अमन हत्याकांड का पचंबा पुलिस ने किया उद्भेदन, एक गिरफ्तार

प्रेम प्रंसग के कारण हुई थी अमन की हत्या, हत्यारे की पत्नी से मृतक का चल रहा था प्रेम प्रसंग

गिरिडीह। अमन हत्याकांड का उद्भेदन करने में पचंबा पुलिस कामयाब रही। पुलिस ने हत्याकांड में शामिल दो में से एक आरोपी राहुल दास को दबोचने में भी पुलिस सफल रही। जबकि दुसरा आरोपी और राहुल दास का फूफा संजय दास फिलहाल पुलिस गिरफ्त से बाहर है। पुलिस ने हत्याकांड के मुख्य आरोपी राहुल को उसके पचंबा थाना क्षेत्र के मोहनपुर स्थित घर से दबोचा। वहीं हत्याकांड में इस्तेमाल की गई बाईक को पुलिस ने राहुल के घर से बरामद करने में सफलता पाया। पुलिस ने खून लगे दो पत्थरों के साथ कुछ कपड़े भी बरामद किया है। रविवार को प्रेसवार्ता कर डीएसपी संतोष मिश्रा, पुलिस निरीक्षक सहदेव प्रसाद और थाना प्रभारी शर्मानंद सिंह ने बताया कि पचंबा के काठगोदाम रोड निवासी अमन की हत्या का कारण भी राहुल के पत्नी से अफेयर होने के रुप में ही स्पस्ट हुआ है। लेकिन मृतक अमन की हत्या संजय और राहुल ने मिलकर किया था।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

सात जनवरी को फूफा के साथ मिलकर राहुल ने की अमन की हत्या

अमन हत्याकांड का पचंबा पुलिस ने किया उद्भेदन, एक गिरफ्तार

प्रेसवार्ता के दौरान पुलिस पदाधिकारियों ने बताया कि बीते सात जनवरी की शाम सात बजे राहुल दास अमन को लेने पचंबा के मनीष स्टोर दुकान के समीप पहुंचा। जहां अमन को अपने बाईक में ले जाते हुए स्टोर दुकान के सीसीटीवी कैमरे में साफ तौर पर नजर आ रहा है। यही नही अमन को लेकर राहुल दास पहले कल्याणडीह स्थित एक शराब दुकान पहुंचा। जहां उसने शराब खरीदा, शराब खरीदने के बाद राहुल दास अमन को लेकर अपने फूफा संजय दास घर के नीचे लखारी पहुंचा और वहां से तीनों एक बाईक में बोड़ो के मिठाई दुकान पहुंचे। जहां राहुल ने शराब पीने के लिए दुकान से समोसा खरीदा। इस दौरान राहुल ने अपने फूफा को पचंबा थाना के समीप एक दवा दुकान के पास ही उतार दिया। इधर समाोसा खरीदने के बाद राहुल व अमन दोनों दुबारा संजय दास को लेने दवा दुकान के पहुंचे।

इसके बाद तीनों बनखंजो पहाड़ के पीछे रेलवे पुल के समीप पहुंचे, जहां तीनों ने एक साथ शराब पीया। इस दौरान जब अमन शराब के नशे में धुत्त था, तब शराब के नशे में अमन पर पहले राहुल के फूफा ने पत्थर से वार किया। जिससे अमन गिर पड़ा। इसके बाद राहुल ने ताबड़तोड़ अमन पर पत्थरों से वार करना शुरु कर दिया। जिससे अमन की मौत मौके पर हो गई।

आग में कपड़ों को जलाकर साक्ष्य मिटाने का किया था प्रयास

पुलिस की मानें तो अमन की हत्या करने के बाद राहुल व संजय दास नीचे लखारी स्थित संजय दास के घर के समीप पहुंचे और एक चूल्हा दोनों ने अपने-अपने पैंट जलाकर साक्ष्य छिपाने का प्रयास किया। लेकिन एकतरफा प्रेम को लेकर हुए हत्या की कहानी कुछ ओर भी रही। पुलिस की मानें तो अमन का अफेयर जिसके साथ चल रहा था। वह मृतक अमन के बगल की रहने वाली थी। जिससे राहुल ने चार महीनें पहले शादी कर लिया था। लिहाजा, अमन को यही बात नागवार गुजरा और पहले अमन ने राहुल का हत्या का प्रयास किया, लेकिन वह नाकाम रहा। इधर अमन का मकसद जानकर राहुल ने पूरे मामले की जानकारी अपने फूफा को दी। इसके बाद दोनों ने अमन की हत्या की साजिश रची थी।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….