खिचड़ी वितरण के साथ संपन्न हुआ लंगटा बाबा समाधि पर्व
जमुआ झारखंड

खिचड़ी वितरण के साथ संपन्न हुआ लंगटा बाबा समाधि पर्व

दो दिनों से चल रहा था श्रद्धालुओं की सेवा में लगे थे सेवादारों का जत्था

जमुआ(गिरिडीह)। खिचड़ी वितरण के साथ ही शनिवार को लंगटा बाबा समाधि पर्व का समापन हो गया। बीते शुक्रवार को जहां बाबा की समाधि पर चादरपोशी करने आये श्रद्धालुओं के बीच शुद्ध घी से बनी पुड़ी सब्जी का वितरण किया गया। वहीं शनिवार को श्रद्धालुओं और साधु संतों को खिचड़ी खिला कर समाधि पर्व का समापन किया गया। बीते दो दिनों से सेवादारों का जत्था खरगडीहा आने वाले श्रद्धालुओं की सेवा में लगा रहा।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

1910 में पौष पूर्णिमा के दिन समाधि प्रवेश किये थे लंगटा बाबा

बताते चलें कि कालजयी संत और जीवात्माओं के साधक लंगटा बाबा ने वर्ष 1910 में पौष पूर्णिमा के दिन खरगडीहा में महासमाधि में प्रवेश किया था। तब से प्रत्येक वर्ष पौष पूर्णिमा के दिन समाधि पर्व का आयोजन किया जाता है।
बताया जाता है कि खरगडीहा स्थित बाबा की समाधि का सभी आयोजन बाबा के ही भक्तों द्वारा किया जाता है। जमुआ के पोबी निवासी स्वतंत्रता सेनानी स्व. सदानन्द प्रसाद जो एकीकृत बिहार में श्रम मंत्री भी रहे हैं, बाबा के अनन्य भक्तों में से एक थे और समाधि पर्व के दौरान भंडारा आदि में अग्रणी भूमिका निभाते थे। अन्य भक्तों के साथ स्व. सदानन्द प्रसाद का भरा-पूरा परिवार अब भी समाधि पर्व के दौरान खरगडीहा आने वाले श्रद्धालुओं की सेवा में पुरी शिद्दत के साथ जुटा रहता है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….