ठगी के मामले में गिरिडीह पुलिस ने मुंबई से किया नाईजीरियाई छात्र को गिरफ्तार
क्राइम गिरिडीह झारखंड देश

ठगी के मामले में गिरिडीह पुलिस ने मुंबई से किया नाईजीरियाई छात्र को गिरफ्तार

चेम्बर पदाधिकारी झुनझूनवाला से लिए 80 लाख, हर्बल केमिकल इंपोट-एक्सपोर्ट कारोबार के नाम पर की ठगी

गिरिडीह एसपी ने प्रेसवार्ता कर हाईप्रोफाईल मामले का किया खुलासा

गिरिडीह। हर्बल केमिकल के नाम पर 80 लाख की ठगी के एक अन्र्तराष्ट्रीय और हाईप्रोफाईल मामले का खुलासा गिरिडीह के साइबर पुलिस ने करते हुए अफ्रीका महादेश के नाईजीरिया देश के लॉ कॉलेज के छात्र को महाराष्ट्र के पुणे से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। नाईजीरिया के जिस 40 वर्षीय छात्र को पुलिस ने पुणे से दबोचा है वह नाईजीरिक का माउगो चान्हो हेनरी एलियस उर्फ डा. एलेक्स डेविड बताया जा रहा है। पुलिस ने इसी मामले में तीन लीटर हर्बल केमिकल के डिब्बे भी जब्त किए है। पुलिस के अनुसार इस अन्र्तराष्ट्रीय ठग हेनरी के गिरोह के चार सहयोगी जो नाईजीरिया के अलावे इंडिया के अलग-अलग महानगरों के रहने वाले फरार है। जिसमें मिस पामेला, डा. रेंमड बेंसन, सुनीता जोस और संजय जोशी शामिल है। लिहाजा, पुलिस इन चारों की गिरफ्तारी को लेकर एक बार फिर मुंबई और पुणे में दबिश देगी।

ठगी के मामले में गिरिडीह पुलिस ने मुंबई से किया नाईजीरियाई छात्र को गिरफ्तार

नाईजीरिया के लॉ कॉलेज का छात्र है गिरफ्तार अन्र्तराष्ट्रीय ठग 

पुलिस के अनुसार पुणे से गिरिडीह पुलिस के हत्थे चढ़ा नाईजीरिया का यह अन्र्तराष्ट्रीय ठग माउगो हेनरी मुंबई के एनएम जोशी थाना से इसी ठगी के मामले में पहले जेल जा चुका है। इधर गिरफ्तारी के बाद शुक्रवार को पुलिस लाईन में प्रेसवार्ता कर एसपी सुरेन्द्र झा, साइबर डीएसपी संदीप सुमन समदर्शी ने प्रेसवार्ता कर बताया कि माउगो चान्हो हेनरी ने गिरिडीह शहर के प्रसिद्ध कारोबारी बाभनटोली रोड निवासी निर्मल झुनझूनवाला से हर्बल केमिकल के इंपोट-एक्सपोर्ट कारोबार के नाम पर 80 लाख की ठगी किया है। इसके लिए निर्मल झुनझुनवाला ने तीन किस्तों में 80 लाख का भुगतान किया। जबकि पूरे केमिकल कारोबार के लिए नाईजीरिया के इस लॉ कॉलेज के छात्र ने शहर के कारोबारी निर्मल झुनझूनवाला से एक करोड़ तीन लाख में डिल किया था। जिसमें झुनझूनवाला ने 80 लाख का भुगतान तीन किस्तों में किया। वहीं शेष 23 लाख का भुगतान करने की बात होने पर निर्मल झुनझूनवाला को शक हुआ।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….

शक होने पर व्यवसायी ने एस को कराया था मामले से अवगत

मामले में शक होने के बाद श्री झुनझूनवाला नेइस बाबत एसपी सुरेन्द्र झा से बात की और उन्हें मामले से अवगत कराया। झुनझूनवाला से पूरे मामले की जानकारी लेने के बाद एसपी झा के निर्देश पर एसआईटी स्पेशल जांच टीम का गठन किया गया। टीम में शामिल डीएसपी संदीप सुमन समदर्शी और साइबर पुलिस निरीक्षक सुमन मंडल के नेत्तृव में छह सदस्यी पुलिस टीम पहले मुंबई पहुंची, हालांकि मुंबई के एनएम थाना से कोई सुराग हाथ तो नहीं लगा। लेकिन मुंबई के इसी थाना क्षेत्र से गिरोह से कनेक्शन रखने वाले एक संदिग्ध से पूछताछ करने पर पुलिस को जानकारी मिली, कि माउगो हेनरी महाराष्ट्र के पुणे में है। लिहाजा, एसआईटी टीम संदिग्ध के बताएं स्थान में पुणे छापेमारी कर हेनरी को दबोचने में सफलता पाई।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर