जेएनयू घटना के विरोध में आइसा और इनौस ने निकाला प्रतिवाद मार्च
जमुआ झारखंड

जेएनयू घटना के विरोध में आइसा और इनौस ने निकाला प्रतिवाद मार्च

बगोदर चौराहा पर नुक्कड़ सभा कर जताया आक्रोश 

जमुआ(गिरिडीह)। जेएनयू में छात्रों-अध्यापकों पर पुलिस की मिली भगत से अभाविप के द्वारा किए गए जानलेवा हमले के खिलाफ सोमवार को आइसा-इनौस ने प्रतिवाद मार्च निकालकर गृह मंत्री अमित साह का पुतला दहन किया। मार्च सरिया रोड स्थित माले कार्यालय से निकलकर बाजार का भ्रमण करते हुए बगोदर चैराहे के पास नुक्कड़ सभा मे तब्दील हो गयी। मार्च का नेतृत्व इनौस के राष्ट्रीय सचिव संदीप जायसवाल, पूरन कुमार महतो, हेमलाल महतो, इमरान नजीर, राजू पासवान, सत्येंद्र यादव कर रहें थे।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

प्रतिष्ठित संस्थान को बदनाम करने की हो रही है साजिश

नुक्कड़ सभा को सम्बोधित करते हुए संदीप जायसवाल ने कहा कि यह हमला महज जेएनयू पर नही है बल्कि यह हमला इस देश के लोकतंत्र पर है संविधान पर है। भाजपा और उसके बगल बच्चा संगठन को लगता है कि जब तक इस देश में जेएनयू जैसे प्रतिष्ठित विश्वविधालय हैं तब तक इस देश में इनकी झूठ, फरेब, उन्माद और बांटने की राजनीति नही चलेगी। पिछले दिनांे जब फिस बढ़ोतरी को लेकर जेएनयू के छात्रों द्वारा आन्दोलन किया गया तो दिल्ली पुलिस के द्वारा उन्हें पिटवाया और छात्र तब भी हार नहीं माने तो अब पुलिस की मिलीभगत से संघी लम्पट गुंडों से हमला करवाया। लेकिन इस हमले के खिलाफ आज देश भर के सड़कों में हजारों की संख्या में लोग उतरे हैं।

प्रतिवाद मार्च मे राजू महतो, राज कुमार दास, महेंद्र रमण, मनोज कुमार, धीरन सिंह, इन्द्रम महतो, डेगलाल महतो, राजू कुमार, तालेश्वर कुमार, मनोज महतो सहित दर्जनो लोग शामिल थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….