तेलोडीह, करहरबारी सहित कई गांवों में चला कोयला तस्करों के खिलाफ छापेमारी अभियान
गिरिडीह झारखंड

तेलोडीह, करहरबारी सहित कई गांवों में चला कोयला तस्करों के खिलाफ छापेमारी अभियान

पांच टन कोयला बरामद, दर्जन भर बैलगाड़ियों को तोड़ा

गिरिडीह। रविवार को सूबे में हेंमत सोरेन के नेत्तृव में नई सरकार का गठन हो रहा था, तो दुसरी तरफ गिरिडीह पुलिस कोयले के अवैध धंधेबाजों के खिलाफ कार्रवाई कर रही थी। डीएसपी टू संतोष मिश्रा के नेत्तृव में अहले सुबह पचंबा पुलिस ने पचंबा के नरेन्द्रपुर, करहरबारी, तेलोडीह और बाबा जी कुटिया समेत कई इलाके में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान पुलिस को देखते ही सारे धंधेबाज तो फरार होने में सफल रहें। लेकिन इन इलाकों में डीएसपी के नेत्तृव में हुए कार्रवाई में करीब दर्जन भर बैलगाड़ियों को तोड़ा गया। जिन बैलगाड़ियों को पुलिस ने तोड़ा, उन बैलगाड़ियों में धंधेबाज कोयला लोड कर अपने मंजिल की ओर निकलने की तैयारी में थे।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

भागने में सफल रहे कोयला तस्कर

छापेमारी के दौरान जैसे ही पुलिस मौके पर पहुंची वैसे ही सभी कोयला तस्कर पुलिस को देखते ही भाग निकले। भागने के क्रम में तस्करों ने करीब दर्जन भर बैलगाड़ियों को इन इलाकों में ही छोड़ दिया। इससे पचंबा पुलिस की परेशानी बढ़ गई, क्योंकि कड़ाके के ठंड में पुलिस जवानों के सहारे ही दर्जन भर बैलगाड़ियों से जब्त पांच टन कोयले के अवैध स्टाॅक को वापस पचंबा थाना पहुंचाया गया। अहले सुबह हुई छापेमारी के बाद पूरी कार्रवाई कई घंटो तक चली। इस बीच डीएसपी मिश्रा ने भी आसपास के इलाकें को खंगाला, जिसमें डीएसपी को जानकारी मिली कि कई महीनों से पचंबा के इन इलाकों में कोयला तस्करों का सिडिकेंट सक्रिय है और हर रोज कोयले को डंप किया जाता है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….