ठेकेदार निरंजन सिंह हत्याकांड में शामिल दुसरे आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जेल
गिरिडीह झारखंड टॉप-न्यूज़

ठेकेदार निरंजन सिंह हत्याकांड में शामिल दूसरे आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जेल

लेवी नहीं देने पर माओवादियों ने जंगल में गला रेतकर की थी हत्या

गिरिडीहः पीरटांड के खेताडाबर में दो साल पूर्व हुए ठेकेदार निरंजन सिंह हत्याकांड में शामिल दूसरे आरोपी को भी मुफ्फसिल थाना पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मुफ्फसिल थाना पुलिस ने गुरुवार की देर रात आरोपी देबु टुडु को उसके खुखरा थाना के हरलाडीह स्थित आवास से गिरफ्तार किया।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

दो साल पूर्व हुई थी हत्या

पीरटांड थाना क्षेत्र के खेताडाबर गांव निवासी ठेकेदार निरंजन सिंह की हत्या देबु टुडु ने अपने सहयोगी माओवादी के साथ मिलकर पीरटांड में दो वर्ष पूर्व कर दिया था। इस आरोप में एक आरोपी को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है। सूत्रों के अनुसार देबु टुडु के माओवादी संगठन से जुड़े होने की भी संभावना जताई जा रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार देबु टुडु ने ही पीरटांड के हार्डकोर माओवादी के सहयोग से निरंजन सिंह का हत्या की थी। हत्या के बाद से ही आरोपी देबु टुडु फरार चल रहा था। मुफ्फ्स्सिल पुलिस को मिली गुप्त सूचना के आधार पर खुखरा पुलिस के सहयोग से देबु टुडु को दबोचा गया है।

लेवी नहीं देने के कारण हुई थी ठेकेदार की हत्या

वर्ष 2017 के मई माह में निरंजन सिंह ने खेताडाबर गांव में एक तालाब के निर्माण की ठेकेदारी ली थी। इसे लेकर माओवादियों ने निरंजन सिंह से लेवी का मांग की थी। निरंजन सिंह के द्वारा लेवी देने से इंकार करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई थी। निरंजन सिंह की हत्या पीरटांड से गिरिडीह जाने के क्रम में खेताडाबर से करीब 15 किमी दूर जंगल में गला रेतकर की गई थी। वहीं घटना के वक्त निरंजन के साथ मौजूद उसके दोस्त को अपराधियों ने छोड़ दिया था। घटना के बाद बाद मृतक की पत्नी के आवेदन पर पुलिस ने थाना कांड संख्या 141/17 दर्ज कर पीरटांड के इलाके से देबु के एक सहयोगी को धर दबोचा था।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….