भ्रष्टाचार निरोधक शाखा की टीम ने पीरटांड के जनसेवक को  घूस लेते किया गिरफ्तार
गिरिडीह झारखंड

भ्रष्टाचार निरोधक शाखा की टीम ने पीरटांड के जनसेवक को  घूस लेते किया गिरफ्तार

लाभुक के मोबाइल दुकान में पदाधिकारी पहले से ग्राहक के रुप में थे मौजूद

पीएम आवास की दूसरी किश्त के 85 हजार देने के लिए जनसेवक मांग रहा था तीन हजार

खरपोका में गिरफ्तारी के बाद शहर के बरगंडा स्थित घर में सर्च कर जब्त किये कई पासबुक

गिरिडीहः भ्रष्टाचार निरोधक शाखा धनबाद एसीबी की टीम गुरुवार को गिरिडीह के पीरटांड के खरपोका पंचायत के जनसेवक राजू साव को गिरफ्तार कर धनबाद ले गई। टीम में शामिल धनबाद एसीबी के पदाधिकारी के. एन सिंह के नेतृत्व में जनसेवक राजू साव को टीम के पदाधिकारियों ने खरपोका निवासी मो. तनवीर से तीन हजार रुपये नगद लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया। इसके बाद टीम के पदाधिकारी आरोपी जनसेवक को लेकर शहर के बरगंडा स्थित उसके घर पहुंचे, और पूरे घर को खंगाला।

घर को खंगालने के दौरान एसीबी के पदाधिकारियों को आरोपी के घर से आधा दर्जन भर बैंक के पासबुक मिलने की बात कही जा रही है। जिसमें बड़े पैमाने पर लाखों के रुपये के ट्रांजेक्शन की बात कही गई है। आरोपी कर्मी के घर से जब्त बैंक पासबुक अलग-अलग बैंको का बताया जा रहा है। जिसमें एसबीआई के साथ कुछ प्राईवेट बैंको का पासबुक होने की बात सामने आई है। हालांकि कर्मी के घर से जब्त सारे पासबुक सिर्फ कर्मी राजू साव के ही है या उनके परिवार के सदस्यों के नाम पर, इसका पता एसीबी के पदाधिकारी लगा रहे हैं।

लेकिन एसीबी सूत्रों की मानें तो कर्मी के घर से जितने पासबुक जब्त किए गए हैं, हर पासबुक में लाखों रुपये के ट्रांजेक्शन होने की बात सामने आई है। जानकारी के अनुसार एसीबी की टीम इस दौरान जनसेवक राजू साव के घर करीब आधे घंटे तक रुकी, और पूरे घर को खंगाला। यह दूसरा मौका है जब बरगंडा में किसी तीसरे कर्मी के घर भ्रष्टाचार निरोधक शाखा के पदाधिकारियों ने दबिश दी है।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे  YouTube चैनल पर

जानकारी के अनुसार घूस लेने के आरोप में एसीबी के हत्थे चढ़ा जनसेवक राजू साव पीरटांड के खरपोका पंचायत का जनसेवक है। खरपोका निवासी मो. तनवीर को पीएम आवास योजना पास होने के बाद उसे पीरटांड प्रखंड से घर निर्माण की पहली किश्त मिलने के बाद बतौर दूसरी किश्त 85 रुपये मिलने थे। लिहाजा, इसी दूसरी किश्त की स्वीकृति के लिए आरोपी जनसेवक लाभुक मो. तनवीर से पांच हजार की मांग कर रहा था।

भ्रष्टाचार निरोधक शाखा की टीम ने पीरटांड के जनसेवक को घूस लेते किया गिरफ्तार

लेकिन तीन हजार में सौदा तय हुआ। घूस की रकम देने के लिए भी गुरुवार का दिन तय किया गया था। जिसमें शिकायतकर्ता तनवीर ने आरोपी जनसेवक से कहा कि पैसे की जुगाड़ होने के बाद वह उन्हें अपने खरपोका गांव के मोबाइल दुकान बुलाएगा। जहां तीन हजार का भुगतान किया जाएगा। गुरुवार को जब लाभुक सह शिकायतकर्ता मो. तनवीर के बुलाने पर जनसेवक तनवीर के दुकान पर पहुंचा, जहां एसीबी के पदाधिकारी ग्राहक बनकर पहले से मौजूद थे, एसीबी पदाधिकारियों की मौज़ूदगी में तनवीर ने जनसेवक राजू साव को तीन हजार नगद रुपये देने लगा।

इसी दौरान भ्रष्टाचार निरोधक शाखा के पदाधिकारियों ने घूसखोर जनसेवक को तीन हजार लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया। इसके बाद टीम के पदाधिकारी घूसखोर कर्मी को लेकर शहर के बरगंडा स्थित आवास पहुंचे और घर को खंगाला। जानकारी के अनुसार आरोपी जनसेवक गिरिडीह के ताराटांड का रहने वाला बताया जा रहा है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं  फेसबुक पेज से….