रघुवर दास के रोड शो के मायने, कहीं गिरिडीह से चुनाव लड़ने का मन तो नहीं बनाया साहब ने

रघुवर दास के रोड शो के मायने, कहीं गिरिडीह से चुनाव लड़ने का मन तो नहीं बनाया साहब ने

प्रदेश के राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाज़ार गर्म, लोग लगा रहे तरह तरह के कयास

सीएम के नाम पर सीट त्यागने पर वर्तमान विधायक शाहाबादी को मिल सकता है कोई बड़ा पद

रिकेंश कुमार/ मनोज कुमार पिंटू

गिरिडीह : मुख्यमंत्री रघुवर दास के गिरिडीह में रोड शो के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाज़ार गर्म है। कुछ लोग जहां इसे वर्तमान विधायक निर्भय शाहाबादी को निर्भय करने के लिए किया गया शो बता रहे हैं तो अब एक अलग ही चर्चा सामने आ रही है। सूत्रों की मानें तो सीएम रघुवर दास गिरिडीह से विधान सभा का चुनाव लड़ सकते हैं। हालांकि इसके साथ ही ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि सीएम रघुवर दास गिरिडीह नहीं तो बोकारो या धनबाद सीट से भी चुनाव लड़ सकते हैं। वैसे यह स्पष्ट नहीं है,  लेकिन गिरिडीह में रोड शो के बाद अब भाजपा के प्रदेश नेत्तृव में इस बात को लेकर काफी गहमागहमी है।

अगर ये बात सच साबित हुई तो राजनीतिक समीकरण तो बदलेगा ही, साथ ही गिरिडीह विस से भाजपा के टिकट पर एक बार फिर से चुनाव लड़ने का सपना पाले वर्तमान विधायक निर्भय शाहाबादी समेत कई दिग्गज भाजपाइयों की उम्मीदों पर वज्रपात हो जाएगा। अब ऐसे में सीएम रघुवर दास के गिरिडीह विस से खुद चुनाव लड़ने की चर्चा प्रदेश स्तर पर हो, तो सीटिंग प्रत्याशी शाहाबादी के साथ तमाम दावेदारों और विपक्षी दलों के प्रत्याशियों में खलबली मचना तय है।

हालांकि सीएम के लिए वर्तमान विधायक यदि अपनी सीट का त्याग करते हैं तो मुमकिन है कि सरकार गठन के बात उन्हें कोई महती ज़िम्मेदारी सौंपकर इसकी भरपाई की जाए। लिहाजा, सीएम रघुवर दास के नाम पर वर्तमान विधायक शाहाबादी अपना त्याग करते है तो यह भी निश्चित है कि पार्टी वर्तमान विधायक को कोई बड़ा पद ही दे दे। भाजपा सूत्रों की मानें तो सीएम का गिरिडीह में रोड शो एक पूर्व नियोजित योजना का हिस्सा है जिस पर से अब पर्दा उठने ही वाला है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं  फेसबुक पेज से….

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे  youtube चैनल पर