कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेंस फाउंडेशन ने मनाया नोबेल पुरस्कार का 5वां वर्षगांठ

कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेंस फाउंडेशन ने मनाया नोबेल पुरस्कार का 5वां वर्षगांठ

बाल अधिकार के लगातार संघर्षरत रहे थे कैलाश सत्यार्शी

गांवा(गिरिडीह)। कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेंस फाउंडेशन द्वारा गुरुवार को शान्ति के नोबल पुरस्कार का 5वां वर्षगाठ मनाया गया। इस मौके पर पिहरा और बाल मित्र ग्राम पांडेयडीह मुसहरी में एक संगोष्ठि का भी आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में माल्डा पंचायत मुखिया प्रतिनिधि दिनेश पांडेय उपस्थित हुए। इस दौरान सभी से कैलाश सत्यार्थी जी के द्वारा किये गए बाल अधिकार हेतु संघर्षों और नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने के क्रम के बारे चर्चा की गयी।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

फिल्म स्क्रीनिग के माध्यम से दिखाया गया कैलाश जी का संघर्ष

मौके पर संस्थान के लोगों के द्वारा फिल्म स्क्रीनिग के माध्यम से कैलाश जी के संघर्ष को दिखाया गया। साथ ही बाल व्यापार, बाल मजदुरी, बाल विवाह जैसी कुरीतियो के प्रति कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेंस फाउंडेशन के प्रयासों के बारे में विस्तृत चर्चा की गयी और लोगों को जागरुक रहकर समाज में बाल अधिकार को सशक्त बनाने का अहवान किया गया। आज के बच्चे कल के भविष्य हैं और आज उनके बचपन को संवार कर ही भविष्य को सुरक्षित किया जा सकता है क्योकि सुरक्षित बचपन से ही सुरक्षित भारत और सुरक्षित विश्व की सुंदर कल्पना संभव हो सकती है।

ये थे मौजूद

मौके पर संस्था के सहायक परियोजना पदाधिकारी सुरेन्द्र पंडित, कार्यकर्ता संदीप नयन, छोटेलाल पांडेय, राजेश शर्मा, अमित, शिवशक्ति, भीम चैधरी, सहित सैकडो ग्रामिण महिला पुरुष और बच्चे उपस्थित थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….