साइबर पुलिस ने नगर भवन में किया कार्यशाला का आयोजन

साइबर पुलिस ने नगर भवन में किया कार्यशाला का आयोजन

लोगों में जागरुकता से ही साइबर अपराध में आ सकती है कमी: एसपी

गिरिडीह। साइबर अपराध से लोगों को बचाने और जागरुक करने की मुहिम गिरिडीह पुलिस द्वारा लगातार जारी है। शुक्रवार को भी नगर भवन में साइबर पुलिस की ओर से गिरिडीह के पुलिस अधिकारियों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला की शुरुआत एसपी सुरेन्द्र झा, साइबर डीएसपी संदीप सुमन समदर्शी, डीएसपी नवीन सिंह, संतोष मिश्रा और एसडीपीओ जीतवाहन उरांव ने दीप जलाकर किया।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

साइबर अपराध को रोकने के लिए पुलिस तत्पर

साइबर पुलिस ने नगर भवन में किया कार्यशाला का आयोजन

कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि साइबर अपराध को रोकने की दिशा में तेजी से काम किया जा रहा है। इसके लिए लोगों को जागरुक करना बेहद जरुरी है। साइबर अपराधियों को रोकने की चुनौती बनने की वजह लोगों में जानकारी का अभाव है। एसपी ने इस दौरान यह भी कहा कि वैसे माहौल काफी बदला है, और साईबर अपराध में कुछ कमी आई है।

दुसरे के वेबसाईट को हैक कर अपराध को अंजाम देते है साइबर अपराधी

कार्यशाला में रांची से आए टेक्नीकल एक्सपर्ट अंशु सिंह उपस्थित पुलिस पदाधिकारियों को कई उदाहरण देते हुए बताया कि कई वेबसाईट में फर्जी न्यूज डाले जाते है। जिसकी पहचान करना संभव नहीं है। इसी प्रकार साइबर क्राइम की महत्पूर्ण भूमिका में आईपीपी एड्रैस है। लेकिन साइबर क्राइम को अंजाम देने के लिए अपराधी दुसरे के वेबसाईट को हेक कर अपराध को अंजाम देते है। टेक्नीकल एक्सपर्ट अंशु ने यह भी बताया कि साईट को हैक होने से बचाने के लिए वेबसाईट के नाम और पासवर्ड के अलावे कई और सावधानी बरतनी पड़ती है।

प्रोजेक्टर के माध्यम से टेक्नीकल एक्सपर्ट ने दी कई अहम जानकारियां

कहा कि सावधानी कहीं से नहीं बरतने के कारण साइबर अपराधी फिलहाल इसी का फायदा उठा रहे है। प्रोजेक्टर के माध्यम से टेक्नीकल एक्सपर्ट ने कई कंपनियों के आईडी समेत अन्य टेक्नीकल विषय को उपस्थित पदाधिकारियों के बीच दिखाते हुए कहा कि अपराधियों तक पहुंचने के लिए ऐसे उपाय कारगर साबित हुए है। इधर कार्यशाला में जिला विधिक सेवा प्राधिकारी के सचिव मनोरंजन कुमार के अलावे नगर थाना प्रभारी अनिल कुमार, यातायात थाना प्रभारी रतन सिंह, सार्जेन्ट मेजर अभिनव पाठक समेत कई पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….