अंग्रेजी शासन की तरह काला कानून थोपना चाहती है भाजपा सरकार- डॉ सरफराज
झारखंड बेंगाबाद राजनीति

अंग्रेजी शासन की तरह काला कानून थोपना चाहती है भाजपा सरकार- डॉ सरफराज

बेंगाबाद(गिरिडीह)। कांग्रेसी नेता पूर्व सांसद डॉ सरफराज़ अहमद ने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार अंग्रेजों की तर्ज पर शासन करते हुए जनता पर काला कानून थोपने का काम कर रही है। उक्त बातें उन्होंने बेंगाबाद प्रखण्ड मुख्यालय में आयोजित जनाक्रोश धरना प्रदर्शन के दौरान कही। शनिवार को कांग्रेस पार्टी की ओर से प्रखण्ड मुख्यालय में क्षेत्र में व्याप्त समस्याओं को लेकर एक दिवसीय जनाक्रोश प्रदर्शन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में कांग्रेसियों ने भाजपा सरकार की नीतियों की जमकर आलोचना की ओर जनता को सचेत होने की बात कही।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

क्षेत्र में जनसमस्याओं का अंबार

अंग्रेजी शासन की तरह काला कानून थोपना चाहती है भाजपा सरकार- डॉ सरफराज

मौके पर वक्ताओं ने कहा कि बेंगाबाद परखण्ड क्षेत्र में जनसमस्याओं का अंबार है। सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में अब भी लोग बिजली पानी सड़क स्वास्थ्य आदि की सुविधाओं से वंचित है। प्रखण्ड व अंचल कार्यालय में वयाप्त भ्र्ष्टाचार से आम जन हलकान हैं। दाखिल खारिज, ऑनलाइन राशिद, जाती आवासीय प्रमाण पत्र, विधवा वृद्धा पेन्सन आदि निर्गत कराने में आम अवाम को दांतों चने चबाने पड़ते हैं। पूरे प्रखण्ड क्षेत्र की एक बड़ी योग्य आबादी आज भी इन सुविधाओं से वंचित है।

जिसकी फिक्र ना तो शासन कर्ताओं को है और ना ही कुर्सी पर बैठे बाबुओं को। भाजपा के शासन में अफसरशाही इस क़दर बढ़ गयी है कि आम अवाम त्रस्त है। भ्र्ष्टाचार में संलिप्त अफसरों को आम जनता की कोई चिंता नहीं है। विकास योजनाओं के नाम पर भी खुली लूट है। कार्यक्रम के माध्यम से लोगों ने अफसरों को चेतावनी देते हुए कहा कि अविलंब अफसर अपने कार्यशैली में सुधार लाएं वरना कांग्रेस पार्टी जनता के लिए सड़क से सदन तक आंदोलन करेगी।

भाजपा सरकार पर गरजे पूर्व सांसद

कार्यक्रम में पूर्व सांसद भाजपा सरकार पर जमकर गरजे और लोगों को सरकार की मंशा से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार लंदन और अमेरिका की तरह नए नए कानून तो जनता पर थोपना जानती है, मगर जनता को सुविधा देने के नाम पर शून्य है। उन्होंने बेंगाबाद प्रखण्ड क्षेत्र में वर्षा की कमी के कारण ना के बराबर खेती होने की बात कहते हुए कहा कि अफसर सब घर बैठे रिपोर्ट बना कर भेज देते हैं, जबकि क्षेत्र के किसानों का बुरा हाल है। कहा कि क्षेत्र को सुखाड़ घोषित करने की बजाय औसत खेती का रिपोर्ट तैयार कर भेज दिया गया जो कि किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

कहा सरकार लोगों को बरगला कर भावनाओ से खेल कर सिर्फ सत्तासीन रहना चाहती है। उन्होंने कार्यकर्ताओं एवं उपस्थित लोगों से अपील किया कि आम लोगों को सरकार की असल मंशा को समझाए। कहा कि अगर झारखंड में यूपीए की सरकार बनती है तो जनमानस के विरुद्ध लाये गए सारे कानून को ध्वस्त कर दिया जाएगा।

ये लोग थे उपस्थित

कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रखण्ड अध्यक्ष उमेश तिवारी कर रहे थे, जबकि मंच का संचालन नेसाब अहमद ने किया। कार्यक्रम में विधान सभा प्रभारी निर्मल ओझा, दुर्गा प्रसाद, चंद्रशेखर सिंह, जैनुल अंसारी, कयमुल हक़, सचिदानंद सिंह, किशोर सिंह, दीपक पाठक, मो अनवर, महताब आलम, किशोर सिंह, मोतीलाल शास्त्री, वाहिद खान, बीरेंद्र सिंह, मो फखरुद्दीन, नरेश पाठक, त्रिभुवन दास, अमित सिन्हा समेत काफी संख्या में कांग्रेसी उपस्थित थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….