देवरी में सरकारी चावल की कालाबाजारी करने वाले धंधेबाज के गोदाम में छापेमारी

देवरी में सरकारी चावल की कालाबाजारी करने वाले धंधेबाज के गोदाम में छापेमारी

चार सौ से अधिक अनाज के पैकेट जब्त

गोदाम संचालक महेन्द्र बरनवाल फरार, ट्रक चालक व खलासी गिरफ्तार

गिरिडीह। भारतीय खाद्य निगम के चावल को ट्रक में लोडकर भेजने की तैयारी कर रहे धंधेबाज के गोदाम में छापेमारी कर चार सौ से अधिक चावल के भरे पैकेट के साथ एफसीआई के 85 खाली बोरे और पोषाहार के 10 जले पैकेट को भी जब्त करने में खाद्य आपूर्ति विभाग के पदाधिकारी ने सफलता प्राप्त की है। गुप्त सूचना के आधार पर गिरिडीह के देवरी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी राजीव रंजन के अलावे देवरी बीडिओ देवेश कुमार और देवरी पुलिस ने शनिवार की दोपहर करीब चार बजे देवरी थाना क्षेत्र के जमुआ-चिकनाडीह रोड स्थित एक मकान में छापेमारी की। जिस मकान में पदाधिकारियों ने छापेमारी की, वह देवरी के महेन्द्र बरनवाल का है।

छापेमारी के दौरान ट्रक पर लोड हो रहा था चावल

छापेमारी के दौरान ट्रक पर लोड हो रहा था चावल

एमओ राजीव के अनुसार महेन्द्र बरनवाल चिकनाडीह में जहां किराना दुकान का संचालन करता है। वहीं अपने मकान से वह एफसीआई के चावल की कालाबाजारी भी किया करता था। गुप्त सूचना के आधार पर जिस वक्त महेन्द्र बरनवाल के मकान में छापेमारी की गयी, उस वक्त भी एक ट्रक में चावल के पैकेट मजदूरों द्वारा लोड किया जा रहा था। पैकेटों को लोड करने के दौरान पदाधिकारियों ने छापेमारी कर सारे पैकेटों को जब्त किया। हालांकि छापेमारी के दौरान चावलों की कालाबाजारी का धंधेबाज महेन्द्र बरनवाल फरार होने में सफल रहा। लेकिन ट्रक चालक व खलासी को पुलिस जवान दबोचने में सफल रहे।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

बिहार का नंबर प्लेट लगा था ट्रक में

बताया जता है कि जिस ट्रक में चावल को लोड किया जा रहा था। उस ट्रक में बिहार का नंबर प्लेट लगा हुआ था। ऐसे में पदाधिकारी संभावना जता रहे है कि महेन्द्र बरनवाल पैकेट को ट्रक में लोड कर बिहार भेजने की तैयारी कर रहा था। समाचार लिखे जाने तक छापेमारी जारी था। वहीं छापेमारी के दौरान धंधेबाज के गोदाम को जब खंगाला गया, तो चार सौ से अधिक चावलों के पैकेट बरामद किए गए। छापेमारी के क्रम में पदाधिकारियों ने कुछ पैकेटों को खोला, तो कुछ पैकेटों में मोटा चावल के साथ कूटा हुआ चावल और देसी चावल भी पाया गया। यही नहीं गोदाम से बरामद पैकेटों में किसी में वजन 25 किलो है तो किसी में 30 से 40 किलो चावल भरा हुआ पाया गया।

पोषाहार के पैकेट के साथ एफसीआई का खाली बोरा भी किया गया जब्त

इस क्रम में गोदाम से एफसीआई के 10 खाली बोरों के साथ आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों के बीच वितरण होने वाले पोषणहार के आठ से 10 पैकेट भी जले पाएं गए। छापेमारी में शामिल पदाधिकारियों की मानें तो जिस प्रकार से गोदाम में एफसीआई के बोरे और पोषाहार के पैकेट पाए गए है। उससे पदाधिकारी भी तय मान कर चल रहे है कि एफसीआई के चावलों की कालाबाजारी करने वाला धंधेबाज महेन्द्र बरनवाल बोरो से चावलों को खाली कर छोटे-छोटे पैकेटों में कालाबाजारी किया करता था। यही नही महेन्द्र बरनवाल के इस गोदाम से ही पोषाहार की भी कालाबाजारी की जा रही थी। इधर गोदाम से बरामद चावल के बोरों को छापेमारी टीम के पदाधिकारी जब्त करने की प्रकिया में लगे हुए थे।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….