अंतरराष्ट्रीय नाट्य कौंसिल की दो दिवसीय अभिनय व फ़िल्म कार्यशाला प्रारम्भ

अंतरराष्ट्रीय नाट्य कौंसिल की दो दिवसीय अभिनय व फ़िल्म कार्यशाला प्रारम्भ

मेयर सुनील पासवान ने किया उद्घाटन, कहा शहर में जल्द ही बनेगा रंगालय

गिरिडीह : गिरिडीह के कलाकारों की कला को निखारने के अंतर्राष्ट्रीय नाट्य कौंसिल की दो दिवसीय कार्यशाला शनिवार से शुरू हुई। कार्यशाला का उद्घाटन मेयर सुनील पासवान के साथ महाराष्ट्र के प्रशिक्षक पार्थ सारथी, बंगाल के अनिरुद्ध कुंडू तथा गिरिडीह के महेश अमन ने संयुक्त रूप से फीता काटकर व दीप प्रज्वलित कर के किया।

मेयर ने कहा कि महेश अमन जी 30 वर्षों से रंगकर्म का पोषण करते आ रहे हैं। उनके द्वारा लगाई गई यह निःशुल्क कार्यशाला बहुत ही सराहनीय है। नगरनिगम के प्रयास से बहुत जल्द इस शहर को रंगालय प्रदान किया जाएगा। कलाकर निःशुल्क अपनी प्रतिभा को निखारने के लिए इसका उपयोग करेंगे। अंतरराष्ट्रीय नाट्य कौंसिल की यह पहल सराहनीय है।

वरिष्ठ रंगकर्मी बद्री दास ने कहा इस तरह की कार्यशाला से शहर को काफी फायदा होता है। रंगकर्म के विकास में में ये कार्यशाला मील का पत्थर साबित होगी। महाराष्ट्र के पार्थ सारथी ने कहा कि हम यह चाहते हैं कि अभिनय को कैरियर से जोड़ें तथा युवाओं को आगे बढ़ाकर उनमें सम्वेदना का विकासकर उन्हें योग्य नागरिक बनाएं। रंगकर्मी महेश अमन ने कहा कि कला तब मर जाती है जब कलाकार भूखा रहता है, हम कलाकार की कला निखारने के साथ उसको रोजगार से जोड़ना चाहते हैं।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

उद्घाटन के बाद प्रशिक्षण प्रारम्भ हो गया। प्रशिक्षण को दो समूहों में विभजित कर दिया गया है। छह वर्ष से लेकर चौदह वर्ष तक जूनियर ग्रुप तथा पंद्रह वर्ष से लेकर साठ वर्ष तक के लोगों का एक ग्रुप। शनिवार को अभिनय पर कार्यशाला चल हुई। इसके बाद रविवार को लोगों को नुक्कड़ नाटक का  प्रदर्शन करना होगा।

रविवार के सत्र में फ़िल्म का प्रशिक्षण दिया जाएगा जिसे FTII के सनाथ तथा अंतरराष्ट्रीय नाट्य कौंसिल के निदेशक पार्थ सारथी जी लेंगे।

कार्यशाला का आयोजन तीस चयनित लोगों के लिए ही किया गया है।

इस कार्यशाला को सफल बनाने में अविनाश केसरी, लोकनाथ, लवलेश, वैद्य, प्रीति, सन्तोष, शीर्षेन्दु सेन सहित कई लोगों की अहम भूमिका रही।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….