भाजपा के हुए दिनेश यादव, कोडरमा सांसद की मौजदूगी में प्रदेश अध्यक्ष ने दिलाई सदस्यता

भाजपा के हुए दिनेश यादव, कोडरमा सांसद की मौजदूगी में प्रदेश अध्यक्ष ने दिलाई सदस्यता

छोटे भाई दीपक यादव व कई समर्थकों के साथ हुए भाजपा में शामिल

गिरिडीहः तमाम अटकलों के बीच आखिरकार पूर्व झामुमो नेता सह पूर्व नप अध्यक्ष दिनेश यादव ने अपने अनुज दीपक यादव व समर्थकों के साथ मंगलवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा और कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी के समक्ष भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। पार्टी के रांची स्थित प्रदेश कार्यालय में पूर्व झामुमो नेता दिनेश को लक्ष्मण गिलुवा और कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी ने भाजपा का अंगवस्त्र पहनाकर सदस्यता दिलाई। इस दौरान दिनेश यादव के साथ वार्ड पार्षद रंजीत यादव, मुकेश यादव, मुनमुन सिन्हा समेत कई शामिल थे। इधर दिनेश यादव के भाजपा में जाने के बाद जहां झामुमो को शहरी क्षेत्र में बड़ा झटका लगा है। वहीं भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद अब राजनीतिक समीकरण का बदलना लगभग तय माना जा रहा है और इसकी वजह पूर्व झामुमो नेता यादव का ओबीसी के अलावे मारवाड़ी और यादव वोटरों में मजबूत पकड़ है। यह अलग बात रही कि नगर निगम के चुनाव में झामुमो से अपने अनुज दीपक यादव को टिकट दिलाने के बाद भी उन्हें करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था। लेकिन मोदी लहर में भाजपा का दामन थामकर भाजपा के नवोदित नेता दिनेश यादव अपनी नैया कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी के बलबूते पार लगाने के जुगाड़ में लग गए है।

समारोह में नहीं दिखा गिरिडीह का एक भी कद्दावर भाजपाई

सदस्यता समारोह की जो तस्वीर सामने आई है, वह बेहद दिलचस्प है। पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के दौरान ना तो गिरिडीह जिलाध्यक्ष सुनील अग्रवाल ही दिखे, और ना ही गिरिडीह का कोई अन्य दिग्गज भाजपाई।

बहरहाल, दिनेश यादव के भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद अब गिरिडीह के दो विधान सभा क्षेत्रों के सीटिंग विधायकों में खलबली मचना तय है। क्योंकि अन्नपूर्णा देवी के प्रयास से यादव गिरिडीह विस सीट से चुनाव लड़ने के मूड में है। लिहाजा, इस बात के कयास अधिक लगाए जा रहे है कि यादव आने वाले विस में चुनाव में भाजपा के टिकट पर गिरिडीह विस से किस्मत आजमा सकते है। वैसे यादव के भाजपा में जाने की चर्चा के दौरान यह निकल कर आया था, कि दिनेश यादव को पार्टी भाजपा के टिकट पर गांडेय विस से भी चुनाव लड़ा सकती है। वैसे टिकट मिलने की बात फिलहाल भविष्य के गर्भ में है।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….

https://sidhinazar.com/wp-content/uploads/2019/07/indian-statical-isntitute2.jpg