दुष्कर्म कर सुनीता की हत्या का आरोपी प्रकाश राय देवरी पुलिस की गिरफ्त से बाहर

दुष्कर्म कर सुनीता की हत्या का आरोपी प्रकाश राय देवरी पुलिस की गिरफ्त से बाहर

पति समेत बहनोई और पिता पहुंचे एसपी से फरियाद लगाने

घटना के एक सप्ताह बाद भी देवरी पुलिस के हाथ खाली

गिरिडीह। महिला के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या करने का आरोपी प्रकाश राय को देवरी पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई है। वहीं मृतिका सुनीता देवी के पति गोपाल राम समेत मृतका के पिता और बहनोई का आरोप है कि देवरी पुलिस सिर्फ आंखों में धूल झोंकने के लिए ही उसके घर पर छापेमारी कर लौट आती है। इधर आरोपी प्रकाश राय की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मंगलवार को पति, बहनोई और पिता सभी एसपी से मिलने गिरिडीह पुलिस लाईन पहुंचे। लेकिन एसपी से मुलाकात नहीं हो पाई। मृतका के पति गोपाल राम और बहनोई का आरोप है कि घटना के एक सप्ताह बाद भी आरोपी फरार है। देवरी पुलिस भी हाथ में हाथ धरे बैठी है।

15 जुलाई को आरोपी प्रकाश राय ने दिया था घटना का अंजाम

विदित हो कि एक सप्ताह पूर्व 15 जुलाई की रात करीब 11 बजे देवरी के कोसोदिघी गांव निवासी गोपाल राम की पत्नी सुनीता देवी के पीछे उस वक्त जबरन घर घूस गया। जब मृतका अपने बड़े भैंसुर के श्राद्धकर्म से घर लौट रही थी। घटना के बाद मृतका के पति ने देवरी पुलिस को दिए फर्द बयान में बताया कि उसके बड़े भाई का श्राद्धकर्म 15 जुलाई की रात को था। उसका और उसके बड़े भाई का घर अगल-बगल में ही है। भाई की मौत के बाद 15 जुलाई को भाई के घर में श्राद्ध था। जिसमें गोपाल राम अपनी पत्नी के साथ गया था। श्राद्धकर्म में शामिल हो कर सुनीता अकेले घर लौट रही थी।

सुनीता का पीछा करते हुए घर तक पहुंचा था आरोपी

इस दौरान आरोपी सुनीता का पीछा करते हुए, उसके घर के अंदर चला गया और घर के दरवाजे को बंद कर दिया। घर के जिस कमरे में सुनीता गई, उस कमरे में जाते ही आरोपी प्रकाश राय ने दरवाजा बंद कर दिया। कमरे में प्रकाश राय के घूसते ही सुनीता चिल्लाना शुरु कर दी। सुनीता की आवाज सुनकर उसकी मां ने भी हंगामा करते हुए दरवाजा पीटना शुरु कर दिया। मां के हंगामा की आवाज सुनने के बाद गोपाल राम समेत कई लोग गोपाल के घर की और दौड़े। लेकिन आरोपी प्रकाश झोपड़ी के खप्पर को उखाड़ते हुए भागने में सफल रहा। इसके बाद गोपाल जब कमरे के भीतर गया, तो देखा कि पत्नी का शरीर अचेत अवस्था में निवसर््त्र पड़ी हुई थी। लिहाजा, गोपाल राम ग्रामीणों के सहयोग से मामले की जानकारी देवरी पुलिस को दिया। इसके बाद मृतका के पति के फर्द बयान के आधार पर केस दर्ज तो कर लिया, लेकिन आरोपी अब तक फरार है।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….