शहरी क्षेत्र में डायन बिसाही का आरोप लगाकर मैला पिलाने का मामला आया सामने

शहरी क्षेत्र में डायन बिसाही का आरोप लगाकर मैला पिलाने का मामला आया सामने

घटना के करीब एक सप्ताह बाद पुलिस ने की कार्रवाई

गिरिडीह। डायन बिसाही का आरोप लगाकर वृद्ध महिला और उसकी ननद को जबरन मैला पीलाने व मारपीट करने का एक गंभीर मामला सामने आया है। मामला सामने आने के बाद नगर और महिला थाना पुलिस हरकत में आई और चार आरोपी को गिरफ्तार कर नगर थाना ले गई। वहीं एक आरोपी परमेशवर दास अब भी फरार है। गिरफ्तार आरोपियों में हरिजन टोला निवासी दीरा दास और उसकी पत्नी शांति देवी, बेटी-दामाद हिरिया देवी और हरि दास शामिल है। आरोपी और भुक्तभोगियों का घर अगल-बगल में ही बताया जा रहा है।

चार आरोपियों को किया गिरफ्तार

शहर के बक्सीडीह रोड के झिंझरी मुहल्ला के हरिजन टोला का यह मामला करीब एक सप्ताह पहले का बताया जा रहा है। लेकिन मामले का खुलासा सोमवार को होने के बाद एसपी सुरेन्द्र झा के निर्देश पर देर शाम नगर थाना प्रभारी आदिकांत महतो, महिला थाना प्रभारी, एसआई ललिता कुजूर, एसआई राजीव सिंह और प्रदीप कुमार पुलिस जवानों के साथ हरिजन टोला पहुंचे और मैला पीलाने के साथ मारपीट के आरोपियों को गिरफ्तार किया।

बहू की तबीयत खराब होने पर लगाया डायन का आरोप

इधर पीड़िता व उसकी ननद ने पुलिस को बताया कि आरोपी सभी उसके गोतिया ही है। कुछ दिनों पहले दीरा दास के बेटे की शादी हुई थी। शादी के बाद दीरा दास की बहु का तबीयत खराब हो गई। जिसमें दीरा दास ने सीताराम दास की पत्नी व उसकी बहन पर बहु को तंत्र-मंत्र से बीमार करने का आरोप लगाते हुए बीतें मंगलवार को घर आ धमका। इसके बाद दीरा दास अपनी पत्नी और बेटी दामाद के अलावे परिवार के ही परमेशवर दास के साथ मिलकर दोनों पीड़ित महिलाओं के साथ पहले मारपीट किया। फीर मैला पीलाया।

तबियत खराब होने पर अस्पताल और थाने गई थी पीड़िता

घटना के बाद जब दोनों की तबियत खराब होने लगी, तो दोनों अस्पताल पहुंची और मदद की गुहार लगाते हुए उसी दिन महिला थाना पहुंची। जहां कोई कार्रवाई नहीं होने के बाद दोनों पीड़िता चुप हो गई। वहीं एक सप्ताह बाद मामले का खुलासा हुआ। इसके बाद नगर थाना पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….