शराब के विरोध में जदयू जिला कमेटी ने दिया बस पड़ाव में धरना

शराब के विरोध में जदयू जिला कमेटी ने दिया बस पड़ाव में धरना

बिहार की तर्ज पर पूरे झारखंड में शराब बंद करने की मांग

 

गिरिडीह। नीतिश सरकार की तर्ज पर राष्ट्रव्यापी शराब बंदी अभियान को लेकर गिरिडीह जदयू जिला कमेटी ने शनिवार को शहर के बस पड़ाव में धरना देकर जिले में शराबबंदी की मांग की। धरना की अगुवाई कर रहे पार्टी के अध्यक्ष सरयू गोप सहित अन्य पार्टी नेताओं ने कहा कि बिहार में शराबबंदी होने के बाद अपराध पर काफी हद तक अंकुश लगा है। ऐसे में नीतिश सरकार की तर्ज पर शराबबंदी अब पूरे देश में लागू होनी चाहिए। कहा कि शराब के कारण ही आए दिन कई घरों में घरेलू विवाद उत्पन्न होता है।

 

शराब की वजह से बढ़ रही है घटनाएं

 

कहा कि शराब पीने की वजह से समाज में कई ऐसी घटनाएं हो रही है। जिसके कारण समाज प्रभावित हो रहा है। पति-पत्नी के बीच विवाद हो या, समाज में विवाद। कार्यकर्ताओं ने शराब को ही बिगड़ रहे पारिवारिक माहौल का सबसे बड़ा कारण बताते हुए शराबबंदी की मांग किया। ताकि घटनाओं पर रोक लग सकें। धरने के माध्यम से कार्यकर्ताओं ने नीतिश सरकार के शराबबंदी का उदाहरण देते हुए कहा कि बिहार में पति-पत्नी के बीच विवाद अब धीरे-धीरे कम हो रहा है।

 

शरबाबंदी से घर की महिलाएं कर रही है बचत

 

कहा कि हर घरों में अब पैसों की बचत भी की जा रही है। ऐसे में शराब के विरोध में महिलाएं भी आगे आ रही है। क्योंकि शराब के सबसे अधिक दुष्परिणाम महिलाओं को झेलने पड़ते है। धरने में युवा जदयू के प्रभारी कौशल सिंह, युवा नगर अध्यक्ष बलराम बरनवाल, पवन वर्मा के अलावे पार्टी के कई कार्यकर्ता मौजूद थे। धरना के बाद शराबबंदी को लेकर पार्टी के कार्यकर्ताओं ने डीसी को ज्ञापन सौंपा।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….