प्रेमी के सामने प्रेमिका के साथ दुष्कर्म मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन

प्रेमी के सामने प्रेमिका के साथ दुष्कर्म मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन

दुष्कर्म के आरोपी सहित उसके सहयोगियों को पुलिस ने दबोचा

गिरिडीह। प्रेमी के सामने प्रेमिका के साथ दुष्कर्म मामले के मुख्य आरोपी समेत उसके साथ मारपीट और दुष्कर्म की घटना को शह देने के चारों आरोपी को गिरफ्तार कर खोरीमहुआ पुलिस जिलें के इस चर्चित घटना का उद्भेदन करने में सफल रही। पुलिस के अनुसार दुष्कर्म का आरोपी जहां राजकुमार यादव है वहीं उसके संरक्षकर्ता पीड़िता का प्रेमी गणेश राय के तीन साले है, जो राजकुमार को उकसाने का कार्य कर रहे थे।

जिलें के इस चर्चित घटना का उद्भेदन होने के बाद एसपी सुरेन्द्र झा ने खोरीमहुआ एसडीपीओ के साथ धनवार पुलिस की सक्रियता के लिए बुधवार को जमकर पीठ थपथपाया। पुलिस लाईन में प्रेसवार्ता कर एसपी झा और एसडीपीओ राजीव कुमार ने बताया कि जिस युवती के साथ दुष्कर्म की घटना हुई है, वह हीरोडीह थाना क्षेत्र की रहने वाली है और वह पहले से शादी शुदा बताई जा रही है। दुष्कर्म के बाद घटना का वीडियो वाॅयरल होने की घटना के बाद मामला चर्चा में आया था।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

पहले से शादीशुदा था प्रेमी

प्रेमी के सामने प्रेमिका के साथ दुष्कर्म मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन

बताया कि दुष्कर्म की शिकार युवति जिस युवक के साथ घूम रही थी वह जिलें के धनवार के परसन ओपी के अरगाली निवासी गणेश राय है, जिसकी शादी छह साल पहले कोडरमा जिलें के नवलशाही थाना क्षेत्र के बेको डगरनवा गांव निवासी लाटो राय की बेटी के साथ हुई थी। लेकिन पीड़िता के साथ उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था और वह गणेश राय से दुसरी शादी के लिए तैयार थी।

पहली पत्नी से बच्चा नहीं होने पर दूसरी शादी के लिए ससुराल वालों ने दी थी सहमति

बताया जाता है कि गणेश को पहली पत्नी से कोई संतान नहीं होने के बाद गणेश को दुसरी शादी की मंजूरी ससुराल से मिली। जिसमें पीड़िता ही उसकी दुसरी पत्नी बनने वाली थी। सहमति के बाद गणेश की उसके ससुराल वालों ने पीड़िता से मिलने का मन बनाया। ससुराल वालों की इच्छा होने के बाद गणेश पीड़िता को लेकर अपने ससुराल बेको डगरना गांव जा रहा था। लेकिन ससुराल वालों को लेकर वह भी शक में था। ऐसे में गणेश रास्ते में पीड़िता को गांव के एक अर्धनिर्मित मंदिर में ठहराया और खुद ससुराल पहुंच गया।

ससुराल वालों ने दी लड़की को मारने की धमकी

इस दौरान ससुराल वालों ने लड़की से मिलने की इच्छा जाहिर कि तो गणेश ने तर्क दिया कि उसको नहीं लाएं है। यह सुनने के बाद गणेश के ससुराल वालों ने धमकी भरे लहजें में कहा कि अगर यहां लड़की को लेकर आते तो वह जिंदा नहीं बचती। ससुराल वालों से धमकी सुनने के बाद गणेश देर रात गांव के अर्धनिर्मित मंदिर पहुंचा और अपनी प्रेमिका को लेकर अरगाली की ओर निकल गया। इसी बीच कोदवारी गांव के समीप बाईक खराब होने के कारण दोनों कोदवारी गांव के स्कूल में रुक गए।

गणेश के सालों ने पहले की मारपीट फिर दुष्कर्म के लिए राजकुमार को उकसाया

दुसरे दिन सुबह दोनों जब अरगाली के लिए निकले तो बीच रास्ते में ही दुष्कर्म का आरोपी राजकुमार यादव अपने चंद साथियों के साथ मिल गया। इस दौरान आरोपी ने गणेश व उसकी प्रेमिका से गांव में मौजूदगी का कारण पूछा। पुलिस जांच के क्रम में यह भी सामने आया कि दुष्कर्म के आरोपी का एक दोस्त संभवत गणेश को पहचानता था। इसी क्रम में गणेश के तीनों सालें आलोक राय, विनोद राय और रामलखन राय मौके पर पहुंच गये। गणेश को युवती के साथ देखकर सभी आगबबूला हो गए और पीड़िता के साथ मारपीट करने लगे।

इस दौरान उन्होंने राजकुमार यादव को युवती के साथ दुष्कर्म के लिए उकसाया। घटना के वक्त आरोपी राजकुमार जो पीला शर्ट पहने था, और वाॅयरल वीडियो में आरोपी को पीले शर्ट में देखा गया। उस शर्ट को भी पुलिस ने आरोपी के घर से बरामद कर लिया है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….