झारखण्ड प्रदेश प्रज्ञा केन्द्र संचालक संघ की बैठक संपन्न
जमुआ झारखंड

झारखण्ड प्रदेश प्रज्ञा केन्द्र संचालक संघ की बैठक संपन्न

जमुआ (गिरिडीह) : झारखण्ड प्रदेश प्रज्ञा केन्द्र संचालक संघ की एक बैठक रविवार को जमुआ में प्रखंड अध्यक्ष मनोज महतो की अध्यक्षता में हुई। बैठक में जाति, आय ,स्थानीय में राजस्व कर्मचारी,अंचल निरीक्षक का लिखित अनुशंसा होने के बावजूद  3 दिन से अधिक ऑनलाइन आवेदन को आईडी को में रोककर सेवा के अधिकार अधिनियम का उल्लंघन करने का मुद्दा उठाया गया। साथ ही संबंधित आवेदन प्रखंड विकास पदाधिकारी के मार्फ़त मुख्यमंत्री के नाम समर्पित करने का निर्णय लिया गया।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

सरकार की विभिन्न योजनाओं से वंचित हो रहे हैं ग्रामीण : योगेश

बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश मीडिया प्रभारी योगेश कुमार पाण्डेय ने कहा कि सीएससी द्वारा तुगलकी फरमान जारी कर कार्य के लिए बाध्य किया जाता है, परंतु बाधित कार्यो के निराकरण की दिशा में कोई ठोस पहल नही किया जाता है। कहा कि आधार, बिजली बिल को लेकर पूर्व सूचना दिए बगैर अधिकांश वीएलई का आईडी बंद कर दिये जाने के कारण ग्रामीण और वीएलई सरकार की विभिन्न योजनाओं से वंचित हो रहे हैं। उन्होंने वीएलई के बकाया भुगतान को समावेशी तरीके से किस्तो में भुगतान लेने की अपील की।

बैठक में थे शामिल

मौके पर वीएलई संजय कुमार, महेंद्र कुमार वर्मा,मो कासिम अंसारी,जयप्रकाश वर्मा सहित दर्जनाधिक वीएलई मौजूद थे। बैठक का संचालन संयोजक रणजीत कुमार गुप्ता ने किया।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….