जल संचयन को लेकर समाहरणालय में कार्यशाला
गिरिडीह झारखंड

जल संचयन को लेकर समाहरणालय में कार्यशाला

हर खेत में मेड़, हर मेड़ पर वृक्ष पर बल

गिरिडीह। समाहरणालय सभागार में बुधवार को कृषि विभाग के तत्वावधान में आयोजित कार्यशाला में जल संचयन पर बल दिया गया। कार्यशाला में डीडीसी मुकुंद दास, सदर एसडीएम राजेश प्रजापति, डीआरडीए निदेशक विज्ञान नारायण प्रभाकर, जिप अध्यक्ष राकेश महतो सहित एनजीओ प्रतिनिधि व कई विभागों के अधिकारी मौजूद थे। कार्यशाला में जल संचयन पर गहन मंथन किया गया। लबोलुबाव यह कि पुरानी तकनीक पर वापसी कर ही जल संरक्षण किया जा सकता है।

सीधी नजर देखें सिटी केबल के 277 नम्बर और हमारे youtube चैनल पर

वृक्षारोपण पर दिया गया बल

पौधारोपन पर बल देते हुए वक्ताओं ने कहा कि भविष्य में पानी की गंभीर समस्या न हो इसके लिए वृक्षारोपन को प्राथमिकता देनी होगी। लगातार जंगल कटाव से मिट्टी का क्षरण हो रहा है, समस्या के मूल में यही है। कहा गया कि झारखंड की 60 प्रतिशत उच्च टांड़ भूमि है, ऐसे भूमि पर वृक्षारोपन कर भविष्य की गंभीर समस्या से निजात पाया जा सकता है।

चेकडैम का रखना होगा खास ख्याल

वक्ताओं ने कहा कि जल छाजन विभाग चेकडैम बनाकर भूल जाती है। कहा गया कि रखरखाव के अभाव में कई चैकडेम की स्थिति जर्जर हो गई। सर्वे कर ऐसे चैकडेम का जीर्णोद्वार की जरूरत है। जल संचयन की तकनीकी जानकारी देते हुए भूमि संरक्षण पदाधिकारी ने कहा कि बरसात के दिनों में मिट्टी का बहाव सर्वाधिक होता है। वर्षा का जल संरक्षित करे तो मिट्टी भी संरक्षित की जा सकती है। कहा कि खेत का पानी खेत में और गांव का पानी गांव में के मूल मंत्र पर काम करना होगा, तभी भविष्य की चुनौतियों का सामना किया जा सकता है।

गांव में हो पानी पंचायत का गठन

डीडीसी ने कहा कि जल संचयन के लिए ग्रामीण स्तर पर पहल करनी होगी। कहा कि गांव में पानी पंचायत की इसमें अहम भूमिका हो सकती है। इसका गठन ग्रामीण स्तर पर ही की जाती है। कहा कि सहभागिता निश्चित कर गांव का योगदान दस प्रतिशत लिया जाता है ताकि ग्रामीण इस योजना को अपना समझे। एसडीएम ने कहा कि अल्प् व अनियमित वर्षा के कारण जिले में सुखाड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है। इस परिस्थिति में वर्षा जल का संचयन व संरक्षण अति आवश्यक है। कहा कि जल संचयन अभियान को जिले में युद्वसतर पर किया जाना है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….