फीस बढ़ोतरी को लेकर विधायक के पहल पर हुई जिला शिक्षा समिति की पहली बैठक

फीस बढ़ोतरी को लेकर विधायक के पहल पर हुई जिला शिक्षा समिति की पहली बैठक

सिर्फ हनी हाॅली और ज्ञानोदय पब्लिक स्कूल के प्राचार्य हुए शामिल

गिरिडीह। फीस वृद्धि को लेकर शहर के प्राईवेट स्कूलों और अभिभावकों में जारी जिच को खत्म करने की पहल गुरुवार को जिला स्तरीय समिति की बैठक में किया गया। लेकिन इस महत्पूर्ण बैठक से अधिकांश स्कूल प्रबंधन के प्रतिनिधी गायब दिखे। स्थानीय विधायक निर्भय शाहाबादी की उपस्थिति में डीआरडीए निदेशक नारायण विज्ञान प्रभाकर की अध्यक्षता में हुए बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी पुष्पा कुजूर व जिला शिक्षा अधीक्षक कमलाकांत सिंह, अभिभावक महासंघ के शिवेन्द्र सिन्हा, विकास खेतान के अलावे सिर्फ हनी हाॅली ट्रिनिटी और ज्ञानदय पब्लिक स्कूल के प्रतिनिधी ही शामिल हुए।

सीधी नजर अब देखें सिटी केबल के चैनल नम्बर 277 पर

हनी हाॅली और ज्ञानोदय स्कूल में नहीं फीस का कोई विवाद

बैठक के दौरान हनी हाॅली ट्रिनीटी स्कूल की प्राचार्य अनिता सिन्हा ने कहा कि हनी हाॅली स्कूल के साथ फीस को लेकर अब तक कोई विवाद नहीं हुआ है क्योंकि स्कूल का फीस बेहद कम है। कमोवेश, यही बात ज्ञानदय पब्लिक स्कूल के प्रतिनिधी ने भी दुहराया।

विधायक ने प्राईवेट स्कूलों के मनमाने रवैये पर जताई नाराजगी

बैठक में विधायक शाहाबादी ने स्कूल प्रबंधन के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट और सरकार के निर्देशों का पालन कई प्राईवेट स्कूल नहीं कर रहे है। ऐसे में उन स्कूल प्रबंधकों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को सुझाव दिया कि जिन स्कूलों के फीस में हर साल मनमाने तरीके से इजाफा किया जा रहा है और जो स्कूल बार-बार नियमों का उल्लघंन कर शिक्षक-अभिभावक संघ का गठन किए बगैर स्कूल संचालन कर रहे है। उन स्कूलों को शिक्षा विभाग नोटिस भेजकर पूर्व की फीस यथावत रखने का निर्देश दे। इस दौरान उन्होंने शहर के सभी स्कूलों को अभिभावक संघ का गठन करने की भी बात कहीं।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….