नये पुलिस लाईन को उड़ाने वाला हार्डकोर माओवादी संझलू चढ़ा पुलिस के हत्थे
गिरिडीह झारखंड टॉप-न्यूज़

नये पुलिस लाईन को उड़ाने वाला हार्डकोर माओवादी संझलू चढ़ा पुलिस के हत्थे

डुमरी पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा गया जेल

गिरिडीह। नये पुलिस लाईन को विष्फोटक लगाकर उड़ाने वाले हार्डकोर माओवादी सुरेश मांझी उर्फ संझलू को मुफ्फसिल थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दिया। हार्डकोर माओवादी संझलू गिरिडीह के डुमरी थाना क्षेत्र के खेजगड्डी खलाक गांव का रहने वाला था। संझलू के खिलाफ नये पुलिस लाईन के नवनिर्मित भवनों को उड़ाने के आरोप में गिरिडीह कोर्ट से वांरट जारी किया गया था। कोर्ट से जारी वांरट को मुफ्फसिल थाना पुलिस ने डुमरी थाना को दिया। वहीं गुप्त सूचना के आधार पर डुमरी पुलिस ने बीतें बुधवार को संझलू को उसके गांव से गिरफ्तार किया गया।

सीधी नजर अब देखें सिटी केबल के चैनल नम्बर 277 पर

मामले में सात साल से चल रहा था फरार

गौरतलब है कि पुलिस के हत्थे चढ़ा माओवादी संझलू पहले पीरटांड़ के जोनल कमांडर अजय महतो के दस्ते के लिए काम करता था। कुछ दिनों पहले से संझलू बोकारो के झुमरा पहाड़ के जोनल कमांडर संतोश महतो के दस्ते से जुड़ा था। साल 2012 में तत्कालीन एसपी अमोल वेणुकांत होमकर के कार्यकाल में न्यू पुलिस लाईन के कई भवनों को अजय महतो के नेत्तृव में विष्फोटकर लगाकर ध्वस्त कर दिया था। लेवी से जुड़े नक्सली कांड के इस मामले में मुफ्फसिल थाना में अजय महतो समेत दर्जन भर माओवादियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। थाना कांड संख्या 180/12 में अजय महतो, सुरेश मांझी उर्फ संझलू समेत कई माओवादियों को नामजद अभियुक्त बनाकर उनकी तलाश की जा रही थी।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….