दुस्साहस : नकाबपोश अपराधियों ने दिनदहाड़े हथियार की नोंक पर की लाखों की लूट
क्राइम झारखंड बेंगाबाद

दुस्साहस : नकाबपोश अपराधियों ने दिनदहाड़े हथियार की नोंक पर की लाखों की लूट

जाते जाते अपराधियों ने किया फायरिंग

बेंगाबाद(गिरिडीह)। गांडेय के बाद बेंगाबाद में बेख़ौफ़ नकाबपोश अपराधियों ने एक बार बार फिर दुस्साहस का परिचय देते हुए लूट की वारदात को अंजाम दिया है। बाइक पर आए आधा दर्जन अपराधियों ने इस बार बेंगाबाद स्थित भारत फाइनेंस कंपनी के दफ्तर पर धावा बोला और कर्मियों को बंधक बनाकर साढ़े पांच लाख से अधिक रुपये लूट कर फरार हो गए। इस दौरान अपराधियों ने कंपनी के कर्मियों के साथ मारपीट भी की है, जिसमें मैनेजर श्रीकांत घायल हो गए हैं। अपराधियों ने हथियार की नोक पर वारदात को अंजाम दिया और फायरिंग करते हुए वहाँ से फरार हो गए।

सीधी नजर अब देखें सिटी केबल के चैनल नम्बर 277 पर

डॉक्युमनेट जमा करने के नाम पर खुलवाया दफ्तर

बताया जाता है कि सुबह साढ़े दस बजे के करीब तीन बाइक पर सवार आधा दर्जन नकाबपोश अपराधी बेंगाबाद फारेस्ट ऑफिस के समीप स्थित भारत फाइनेंस कंपनी के दफ्तर पहुंचे और डॉक्यूमेंट जमा करवाने की बात कहकर अंदर घुसे। दफ्तर के अंदर जाते ही अपराधियों ने बंदूक का भय दिखाकर कार्यालय में मौजूद दोनों कर्मियों को अपने कब्ज़े में ले लिया। इस दौरान कर्मियों ने जब थोड़ा विरोध किया तो अपराधियों ने क्रेडिट मैनेजर श्रीकांत यादव के सर पर रिवाल्वर की बट से वार कर जख्मी कर दिया। जिसके बाद कार्यालय में रखे पांच लाख तिरसठ हजार दो सौ बत्तीस रुपये लूट लिए। इस दौरान अपराधियों ने दोनों कर्मियों का मोबाइल भी छीन लिया और अपने साथ ले गए। जाते जाते अपराधियों ने गोली फायरिंग कर कर्मियों को धमकाया और रफ्फूचक्कर हो गए।

अपराधी बेख़ौफ़ ढंग से दे रहे पुलिस को चुनौती

घटना के बाद सूचना पाकर बेंगाबाद पुलिस मौके पर पहुंची और पूरी जानकारी लेने के बाद मामले की पड़ताल में जुट गई है। थाना प्रभारी प्रशांत कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम अलग अलग इलाको में गश्ती कर अपराधियों की धर पकड़ की कोशिश में लगी हुई है।

बता दें कि कल यानी बुधवार को अपराधियों ने गांडेय में एक ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से लगभग डेढ़ लाख रुपये लूट की वारदात को अंजाम दिया था। दूसरे दिन ही अपराधियों ने बेंगाबाद में अपना दुस्साहस दिखाया है। लोगों का मानना है कि अपराधी किसी गिरोह से जुड़े हुए हैं और सुनियोजित ढंग से एक के बाद एक वारदात को अंजाम दे रहे हैं।

बहरहाल यह काम किसी गिरोह का हो या फिर किसी अन्य अपराधकर्मियों का। मगर जिस प्रकार से अपराधियों ने दिन दहाड़े चहल पहल वाले इलाके में वारदात को अंजाम दिया है, यह पुलिस प्रशासन के लिए खुली चुनौती है। अब देखना यह होगा कि पुलिस अपराधियों तक पहुंच पाने में सफल हो पाती है या नहीं।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….