बेंगाबाद : स्टोन फैक्टरी में चोरी, दो पार्टनरों ने एक दूसरे पर लगाया आरोप

बेंगाबाद : स्टोन फैक्टरी में चोरी, दो पार्टनरों ने एक दूसरे पर लगाया आरोप
  • 22
    Shares

बेंगाबाद(गिरिडीह)। बेंगाबाद थाना क्षेत्र के छछन्दों स्थित साहब मिनरल ग्राइंडर फैक्टरी में बुधवार की सुबह अपराधियों द्वारा लूटपाट और चोरी की घटना को अंजाम देने की ख़बर फैलते ही इलाके में सनसनी फैल गयी।

अपराधियों द्वारा फैक्टरी के मुंशी एवं गार्ड को बंधक बना कर लाखों रुपये मूल्य के मशीनरी की चोरी कर ली गयी। घटना की सूचना बेंगाबाद पुलिस को मिलते ही फौरन पुलिस हरकत में आई और एसआई शमशेर आलम के नेतृत्व में इलाके में छापेमारी कर दो घण्टे के अंदर चोरी किये गए सारे सामानों को बरामद कर लिया गया।

दो पार्टनर की बीच विवाद बना कारण

पुलिसिया जांच में फैक्टरी के दो पार्टनरों के बीच उत्पन्न विवाद के कारण घटना को अंजाम देने की बात सामने आई है। दोनों पार्टनर के बीच लंबे समय से चल रहे विवाद के कारण बुधवार की अहले सुबह एक पार्टनर के द्वारा फैक्टरी में लगे लाखों की मशीन समेत अन्य सामानों को फैक्टरी से जबरन उठा ले जाने का मामला सामने आया है।

फैक्टरी के दूसरे पार्टनर द्वारा घटना की सूचना पुलिस को देने के बाद सारे समान को थाना क्षेत्र के अधनचुआ गांव से बरामद कर लिया गया। पुलिस टीम ने अधनचुआ गांव से फैक्टरी से गायब किये गए समान समेत जेसीबी मशीन और समान लेजाने में प्रयोग किये गए दो ट्रेक्टर को जब्त कर थाने ले आयी है।

घटना को लेकर फैक्टरी के एक पार्टनर देवकांत महतो ने बेंगाबाद थाने में आवेदन देकर अपने दूसरे पार्टनर डॉ राजकिशोर वर्मा पर उनके सहयोगियों के साथ चोरी का आरोप लगाया है।

देवकांत महतो का कहना है कि उनके पार्टनर राजकिशोर वर्मा बुधवार की अहले सुबह अपने 10- 15 सहयोगियों के साथ फैक्ट्री पहुंचे और मुंशी एवं मैनेजर आदि को कमरे बन्द कर फैक्टरी से लगभग 25 लाख रुपये मूल्य की मशीनरी समेत अन्य सामान चोरी कर ले गए।

जबकि दूसरे पार्टनर राजकिशोर वर्मा ने बताया कि उनके पार्टनर देवकांत महतो द्वारा लंबे समय से धोखाधड़ी और घपला किया जा रहा था। देवकांत महतो उनकी गैर मौजूदगी में फैक्ट्री के सामानों को बेच रहा था और फैक्टरी का कोई हिसाब व किताब नहीं दे रहा था।

उन्होंने कहा कि चूंकि वह एक मेडिकल प्रैक्टिशनर है इसलिए वह फैक्ट्री में समय नही दे पाते हैं। जिसका नाजायज फायदा उनका पार्टनर उठा रहा था।

बताया कि फैक्ट्री उनके नाम पर है और फैक्टरी के लिए बैंक से लिए गए लोन आदि की जिम्मेवारी उनपर है। मगर उनका पार्टनर उनके साथ बेईमानी की नीयत राखकर उन्हें धोका दे रहा था।

इसीलिए उन्होंने फैक्ट्री के सामानों को उठाया है। उन्होंने चोरी की बात से इनकार करते हुए कहा कि जब वह फैक्ट्री के मालिक हैं तो ऐसे में अपनी ही फैक्ट्री में चोरी की बात बेमानी है। उन्होंने भी अपने पार्टनर के विरुद्ध धोखाधड़ी और फैक्ट्री हड़पने की नीयत से जालसाजी करने का आवेदन थाने में दिया है।

मालिकाना हक को लेकर विवाद

बता दें कि बेंगाबाद के छछन्दों में सफेद पत्थर पीसकर पाउडर बनाने वाले क्वार्ट क्रेशर स्थापित है। वर्ष 2014 से दोनों पार्टनर के सहयोग से प्लांट को चलाया जा रहा था। मगर अंदरूनी विवाद के कारण यह घटना गठित हुई है। फैक्ट्री पर मालिकाना हक को लेकर दोनों पार्टनर दावेदारी पेश कर रहे हैं। फिलहाल पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है। जांच पड़ताल के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….