विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने प्रत्याशियों को दी जीत की शुभकामनाएं
गिरिडीह झारखंड टॉप-न्यूज़ राजनीति

विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने प्रत्याशियों को दी जीत की शुभकामनाएं

सांसद रवीन्द्र राय व रवीन्द्र पांडेय का बढ़ाया उत्साह

गिरिडीह। गिरिडीह के जमुआ नावाडीह स्थित श्यामडीह मैदान में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के चुनावी रैली की हर तस्वीर दिलचस्प व कार्यकर्ताओं में उत्साह पैदा करने वाला रहा। कोडरमा की भाजपा प्रत्याशी अन्नपूर्णा देवी और गिरिडीह से आजसु प्रत्याशी चन्द्र प्रकाश चौधरी के पक्ष में भाजपा के चुनावी रैली का नाम विजय संकल्प रैली दिया गया था। इस दौरान पार्टी विधायकों व प्रत्याशियों ने जहां 51 किलो की माला पहनाकर मोदी का स्वागत किया। वहीं जमुआ विधायक केदार हाजरा ने मिर्जागंज के जलीय सूर्य मंदिर का प्रतीक चिन्ह पीएम मोदी को भेंट किया।

मंच पर जहां पीएम मोदी ने जमुआ विधायक केदार हाजरा से मंच पर गुफ्तगू करते दिखे। वहीं टिकट कटने से खफा कोडरमा व गिरिडीह सांसद रवीन्द्रद्वय का पीठ थपथपाकर दोनों सांसदों का उत्साह भी बढ़ाया। कोडरमा व गिरिडीह के दोनों लोस के एनडीए व भाजपा प्रत्याशी अन्नपूर्णा देवी और चन्द्रप्रकाश चौधरी को जीत की शुभकामना देने के साथ हौसला अफजाई भी किया। इधर 25 मिनट के संबोधन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल निशाने पर रहे।

इसे भी पढ़ें-झारखंड के चप्पे-चप्पे की हिफाजत के लिए चौकन्ना है चौकीदार: मोदी

सीएम रघुवर दास ने भी सभा को किया संबोधित

संकल्प रैली को सुबे के सीएम रघुवर दास ने संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा व एनडीए हर हाल में कार्यकर्ताओं के बलबूते राज्य की 14 सीटों पर जीत का परचम लहराएगी। महज 5 मिनट के संबोधन में सीएम दास ने पीएम मोदी को कई बार देश का तेजस्वी और यशस्वी पीएम बताते हुए कहा कि भाजपा अपना नारा फिर एक बार मोदी सरकार को बुंलद कर लोस चुनाव लड़ रही है। सीएम दास ने चुनावी रैली में उपस्थित करीब सवा लाख समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि विजय संकल्प रैली पूरे राज्य का नारा बनकर उभरा है। इसी नारे पर सूबे के भाजपा कार्यकर्ता लगातार मेहनत कर रहे है। इस बीच मंच पर बिहार के प्रदेश अध्यक्ष सह झारखंड प्रभारी मंगल पांडेय, गिरिडीह के स्थानीय विधायक निर्भय शाहाबादी भी मौजूद थे।

प्रधानमंत्री ने लिया उमाचरण साहू का नाम

सभा को संबोधित करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उमा चरण साहू के नाम का जिक्र करते हुए कहा कि उनसे पूछे की ग्रामीण क्षेत्र में लाल आतंक समाप्त हुआ कि नहीं। उमा चरण साहू साहू समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष है और पिछले 45 सालों से समाज के के लिए कार्य कर रहे है। मोदी ने कहा कि उमा चरण साहू जी से कोई पूछे कि लाल आतंक का कितना खौफ इस इलाके में था उन्हें अपने परिवार को गांव से बाहर ले जाना पड़ा था आज वह सुकून महसूस कर रहे होंगे कि लाल आतंक का सफाया लगभग हो गया। कहा कि साहू जी को समाज के पिछड़े तबकों को समाज की मुख्यधारा में देख कर काफी सुकून महसूस हो रहा होगा।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….