मरांडी के नामाकंन के बाद झंडा मैदान में दिग्गजों का हुआ जुटान, महागठबंधन ने भरी हुंकार

मरांडी के नामाकंन के बाद झंडा मैदान में दिग्गजों का हुआ जुटान, महागठबंधन ने भरी हुंकार
  • 1
    Share

सभी ने कोडरमा से बाबूलाल को जिताने का लिया संकल्प

 

गिरिडीह। कोडरमा लोस क्षेत्र से झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी के नामाकंन के बाद झंडा मैदान में आयोजित आमसभा में महागठबंधन के नेताओं का जुटान हुआ। आमसभा में कोडरमा प्रत्याशी के अलावा पूर्व सीएम सह झामुमो के हेमंत सोरेन, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार, राजद प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा, पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, पूर्व सांसद तिलकधारी प्रसाद सिंह, डॉ सरफराज अहमद,  झाविमो के प्रदीप यादव, डॉ शबा अहमद,  चुन्ना सिंह,  रामचन्द्र केशरी,  हाजी हुसैन अंसारी,  बंधु तिर्की,  सुदीव्य कुमार सोनू सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता व आमजन मौजूद थे। तीखी धूप के बावजूद लोगों के उत्साह व जोश में कमी नहीं दीख रही थी। श्रोताओं का जोश देख मंचासीन नेता भी उत्साह से लबरेज थे।

 

बाईस माह हवा में तैरते रहे मोदी – मरांडी

 

कोडरमा प्रत्याशी सह झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने कहा कि बाईस माह तक हवा में तैरते रहे पीएम मोदी जो कहा नहीं था वह कर रहे है। संवैधानिक संस्थाओं को इतना लाचार कर दिया कि चार जजो को पीसी करनी पड़ी। कहा कि जनता के पास मौका है, एक वोट से सता बदलेगी अन्यथा पांच सालों तक भुगतना होगा। उन्होंने कहा कि विगत चुनाव में दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था। लेकिन आज देश के बारह करोड़ युवा बेरोजगार है। मरांडी ने कहा कि आपसी भाईचारे को तार-तार कर रही केन्द्र व राज्य सरकार दंगा-फसाद की अगुआयी कर रही है, यही कारण है कि माब लिंचिंग के आरोपी को पुरस्कृत किया जाता है।

 

आजसू पार्टी नहीं राजनीतिक दुकान – हेमंत

 

पूर्व मुख्यमंत्री सह झामुमो नेता हेमंत सोरेन ने एनडीए पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि आजसू पार्टी नहीं बल्कि एक राजनीतिक दुकान है। राजनीति की आड़ में पार्टी के मुखिया ब्लेकमेंलिंग का काम कर रहे है। उन्होंने कहा कि एक ओर पूंजीपतियों की लंबी फेहरिस्त है, तो दूसरी ओर गरीबों की फौज। इस संघर्ष में किसकी जीत होगी इसका निर्णय आपका मत करेगा। कहा कि देश में ऐसी स्थिति बना दी गई है  कि डिग्री लेकर युवा सड़क पर भटक रहे है। भाजपा से न देश चलेगा और न राज्य।

 

चुनाव नहीं महासमर है: सुबोधकांत

 

कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय ने कहा कि यह चुनाव नहीं महासमर है। कहा कि अद्भुत व्यक्तित्व के स्वामी मरांडी की जीत का आमलोग संकल्प लें। विगत तीन वर्षो से जनविरोधी नीतियों के खिलाफ संघर्ष करते आ रहे मरांडी की जीत से क्षेत्र की दशा और दिशा बदलेगी। कहा कि ऐसा माहौल और संमा देख कोडरमा और गिरिडीह लोस सीट पर महागठबंधन की जीत तय लग रही है।

 

स्कूल बंद कर सरकार खोल रही है दारू की दुकान: डॉ अजय

 

कंग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कहा कि राज्य सरकार स्कूल बंद कर दारू की दुकान खोल रही है। सरकार की मंशा शिक्षा देने के बजाय राज्य में शराबियों की फौज खड़ी करने की है। कहा कि जिस राज्य में पारा शिक्षकों को छः हजार और शराब बेचने वाले को 25 हजार मासिक मिले उसका भगवान ही मालिक है।

मोदी अमीरो के चौकीदार: राणा

 

राजद प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने कहा कि पीएम मोदी गरीबों के नहीं अमीरो के चौकीदार है। यह कौन सी नीति है जहां डाक्टर,  इंजीनियर के बजाय चौकीदार पैदा किया जा रहा है। कहा कि देश में एकता बनी रहे इसके लिए गोडसे की मानसिकता की पोषक रही भाजपा को परास्त करना जरूरी है। आमसभा को हाजी हुसैन अंसारी, चुन्ना सिंह, तिलकधारी सिंह, सरफराज अहमद ने भी संबोधित किया। मंच संचालन झाविमो जिलाध्यक्ष महेश राम ने किया।

 

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….