सड़क किनारे गड्ढे में मिला ट्रक चालक का शव, परिजनों ने की तोड़फोड़

सड़क किनारे गड्ढे में मिला ट्रक चालक का शव, परिजनों ने की तोड़फोड़
  • 28
    Shares

झरियागादी के आधा दर्जन घरों में पथराव

गिरिडीह। गिरिडीह के औद्योगिक क्षेत्र के हरसिंगरायडीह मोड़ के सड़क किनारे गड्ढे में सोमवार की सुबह झरियागादी निवासी राजेन्द्र ठाकुर का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। शव के साथ चालक राजेन्द्र का साइकिल भी मिला है।

परिजनों ने झरियागादी के यादव परिवार पर लगाया हत्या का आरोप

इधर राजेन्द्र की मौत पर परिजनों समेत स्थानीय लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। शव मिलने के बाद परिजनों ने राजेन्द्र के हत्या का आरोप लगाकर मुफ्फसिल थाना में हंगामा करते हुए आरोपियों के खिलाफ लिखित आवेदन देकर कार्रवाई का मांग की। इसके बाद मृतक के परिजनों और इलाके के स्थानीय लोगों ने झरियागादी के ही यादव परिवार के आधा दर्जन घरों में जमकर पथराव किया। इस दौरान कुछ घरों के दरवाजे क्षतिग्रस्त हो गए। पथराव में हकीम यादव की पत्नी अनुमति देवी के सिर पर मामूली चोट लगी। इधर पथराव की घटना की जानकारी मुफ्फसिल और नगर थाना पुलिस को मिलने के बाद दोनों थानों से काफी संख्या में पुलिस जवान पदाधिकारियों के साथ पहुंचे और स्थित को संभाला। इलाके में तनाव को देखते हुए दोनों थाना के एसआई संजय कुमार, माहताब आलम, राजीव सिंह की अगुवाई में पुलिस बल तैनात थे। पथराव में हकीम यादव, गुलाब यादव, प्रेम यादव, सुधीर यादव, विष्णु यादव के घर क्षतिग्रस्त हुए हैं। 

सड़क किनारे गड्ढे में मिला ट्रक चालक का शव, परिजनों ने की तोड़फोड़

पुलिस ने स्थिति को काबू में किया

हंगामा कर रहे लोगों को थाना प्रभारी सह प्रशिक्षु आईपीएस नाथु सिंह मीणा और थाना निरीक्षक रत्नमोहन ठाकुर ने समझा-बुझाकर शांत किया। थाना प्रभारी सह प्रशिक्षु आईपीएस मीणा ने कहा कि मृतक के मोबाइल का काॅल डिटेल निकाला गया है। जिसमें मृतक ने रविवार की रात किन-किन लोगों से बात किया है, इसका पूरा जिक्र है। लेकिन यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आखिर मौत कैसे हुई।

डॉक्टर और पुलिस के बयान में अंतर

मुफ्फसिल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भिजवाया। अस्पताल के चिकित्सक डॉ सुनील सिंह और डॉ राजीव कुमार ने बताया कि मृतक के सिर पर चोट के निशान पाए गए हैं। जबकि पुलिस सिर पर चोट लगने की बात से इंकार कर रही है। सवाल है कि आखिर मृतक के सिर पर चोट कैसे लगी और  चिकित्सक के बयान को मानने से पुलिस इंकार क्यों कर रही है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….