गिरिडीह और जमुई सीमा पर पुलिस और नक्सली मुठभेड़, 3 माओवादियों को लगी गोली

गिरिडीह और जमुई सीमा पर पुलिस और नक्सली मुठभेड़, 3 माओवादियों को लगी गोली
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 169
  •  
  •  
    169
    Shares

जमुई और गिरिडीह एसपी के संयुक्त नेतृत्व में हुआ ऑपरेशन

गिरिडीह। पुलिस और नक्सली मुठभेड़ में तीन माओवादियों को गोली लगी है। खबर के मुताबिक माओवादियों के साथ मुठभेड़ बिहार के जमुई जिले के चकाई थाना क्षेत्र के हिंडला जंगल में हुई। जख्मी माओवादी सिद्धु कोड़ा दस्ते के बताएं जा रहे हैं। जख्मी हालत में ही तीनों माओवादियों के जमुई की ओर भागने की सूचना है। जानकारी के अनुसार जिस हिंडला जंगल में शुक्रवार की दोपहर मुठभेड़ हुई। वह इलाका जमुई जिले के चकाई थाना में पड़ता है। चकाई थाना से हिंडला जंगल करीब 40 किमी दूर है। जबकि गिरिडीह के भेलवाघाटी थाना से हिंडला जंगल की दूरी जहां 20 किमी है।

वहीं भेलवाघाटी सीआरपीएफ कैंप से हिंडला जंगल की दूरी महज 12 किमी बताया जा रही है। पुलिस और माओवादियों के बीच शुक्रवार की दोपहर करीब 2 मुठभेड़ शुरू हुई। मुठभेड़ तीन घंटे तक चली। जिसमें दोनों ओर से सैकड़ों रांउड गोली चलने की सूचना है। पुलिस को भारी पड़ता देख नक्सली संगठन के जमुई-गिरिडीह का जोनल कमांडर सिद्धु कोड़ा अपने दस्ते के साथ जमुई की ओर भाग खड़ा हुआ। भागने के क्रम में ही तीन माओवादियों को गोली लगने की सूचना है। गोली लगने की पुष्टि जमुई एसपी जयनाथ रेड्डी ने भी किया है। पुलिस ने मौके से एक दर्जन पिट्ठु बैग भी जब्त किया है। साथ ही एक थ्री नाॅट रिवाल्वर के भी जब्त होने की बात कही जा रही है।

इसे भी पढ़ें-होली में और अश्लील गीतों पर हर हाल में रहेगी पाबंदी: सुरेन्द्र झा

घेराबंदी कर नक्सलियों को खदेड़ा

गिरिडीह और जमुई सीमा पर पुलिस और नक्सली मुठभेड़, 3 माओवादियों को लगी गोली

जानकारी के अनुसार हिंडला जंगल में सिद्धु कोड़ा समेत उसके दस्ते के करीब 40 से 50 माओवादियों के बैठक किए जाने की सूचना मिली। इसी सूचना के आधार पर जमुई एसपी जयनाथ रेड्डी के निर्देश पर जमुई सीआरपीएफ और गिरिडीह एसपी सुरेन्द्र झा और एएसपी दीपक कुमार के नेतृत्व में देवरी और भेलवाघाटी सीआरपीएफ का साझा ऑपरेशन शुरू हुआ। इस दौरान सुरक्षा बलों ने हिंडला जंगल की जबरदस्त घेराबंदी की। इसके बाद जंगल में सुरक्षा बलों के जवान को देखते ही सिद्धु कोड़ा दस्ते ने सुरक्षा बलों पर ताबड़तोड़ फायरिंग करना शुरू कर दिया। इस बीच सुरक्षा बलों को भारी पड़ता देख जहां माओवादी घने जंगल का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। वहीं भागने के क्रम में तीन माओवादियों को गोली लगी है। जिनकी पहचान नहीं हो पाई है। इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….