सीएमआर माइका फैक्ट्री ने 6 मजदूरों को काम से निकाला, जमकर हंगामा

सीएमआर माइका फैक्ट्री ने 6 मजदूरों को काम से निकाला, जमकर हंगामा
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 7
  •  
  •  
    7
    Shares

पुलिस के पहुंचने के बाद भी नहीं निकला समाधान

गिरिडीह। शहर की माइका कंपनी सीएमआर राजगढ़िया कारखाने में गुरुवार को छह कर्मियों के समर्थन में कारखाने में कार्यरत कर्मियों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान कर्मियों ने फैक्ट्री गेट के बाहर कारखाना मालिक अनूप राजगढ़िया और उनके बेटे चिंटू राजगढ़िया के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। हंगामा कर रहे कर्मियों में दिनेश राम, जीतेन्द्र कुमार, धर्मेन्द्र, मो जफर, राजू राय और मनोज राम ने कारखाना मालिक पर आरोप लगाते हुए कहा कि बिना किसी सूचना के प्रबंधन ने उन लोगों को काम से हटा दिया है। ऐसे में अब वे लोग कहां जाएंगे।

इसे भी पढ़ें-गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र में होंगे 23 माॅडल पोलिंग स्टेशन, सभी सुविधाओं से होगा युक्त

तीस सालों से काम कर रहे हैं हटाये गये कर्मी

कर्मियों ने इस दौरान आरोप लगाते हुए कहा कि सीएमआर राजगढ़िया माइका कारखाना से निकाले गए 6 कर्मी करीब 30 सालों से काम कर रहे हैं। कारखाना में माइका केपीसीटर बनाने का काम 6 कर्मी ही करते आ रहे हैं, फिर भी कंपनी ने उन लोगों को काम से हटा दिया है। कारखाना से निकाले गए कर्मियों ने मालिक पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब कंपनी को जरूरत होती है, तो उन्हें काम पर रख लिया जाता है और जरूरत खत्म होने के बाद उन्हें हटा दिया जाता है।

फैक्ट्री मालिक ने कर्मियों को रखने से किया इंकार

इधर गेट के बाहर नारेबाजी की जानकारी मिलने के बाद नगर थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची और हंगामा कर रहे कर्मियों को समझा-बुझाकर शांत किया। इस दौरान नगर थाना पुलिस ने कारखाना मालिक से भी वार्ता की। हालांकि वार्ता के दौरान कोई समाधान नहीं निकला। इधर जानकारी लेने के क्रम में अनूप राजगढ़िया का कहना है कि जब कारखाना में काम रहेगा, तभी काम दिया जाएगा।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप एवं फेसबुक पेज से….